संवाद सहयोगी, दीनानगर : दीनानगर-गुरदासपुर राज्य मार्ग के किनारे सूखे वृक्ष इन दिनों दीनानगर में हादसों का कारण बने हुए हैं। वन विभाग अभी हादसों के इंतजार में है। क्षेत्र में तूफान आंधियों का मौसम प्रतिदिन बन रहा है जबकि वन विभाग द्वारा सड़कों के किनारे सूखे वृक्षों की कटाई नहीं की जा रही है।

हैरानी की बात तो यह है कि उक्त मार्ग पर कई सूखे वृक्ष सड़कों के ऊपर झुके हुए हैं। इसके चलते कभी भी कोई अप्रिय घटना हो सकती है। हालांकि इस संबंधी शहर की समाजसेवी संस्थाओं द्वारा कई बार प्रशासनिक अधिकारियों के ध्यान में यह मामला लाया गया है, बावजूद भी कोई ठोस कार्रवाई वन विभाग की ओर से अभी तक देखने को नहीं मिली है। इसके चलते लोग खौफ में रहकर उक्त मार्ग से सफर कर रहे हैं।

करीब 5 माह पूर्व दीनानगर निरंकारी भवन के पास व पिछले महीने आर्दश कॉलोनी पर एक पेड़ सड़क के बीचो-बीच गिर गया था। हालांकि इस दौरान नुकसान तो होने से बाल-बाल बच गया, लेकिन करीब 8 घंटे तक मार्ग प्रभावित रहा था। यही स्थिति अब बनी हुई है दीनानगर गुरदासपुर राज्य मार्ग पर करीब एक दर्जन के करीब सूखे वृक्ष सड़कों के ऊपर झुके हुए हैं, जिसको कटवाने में वन विभाग जरा सी भी दिलचस्पी नहीं दिखा रहा है।

वहीं डीएफओ वेल्वेट सैमसन का कहना है कि जल्द ही वह दीना नगर क्षेत्र का दौरा करके ऐसे सूखे वृक्षों की खुद ही जांच करेंगे। उन्होंने कहा कि जो वृक्ष सुखकर सड़कों पर चुके होंगे उन्हें जल्द ही कटवा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!