संवाद सहयोगी,काहनूवान : हलका कादियां के कस्बा भैणी मिया खां में शिरोमणि अकाली दल की कोर कमेटी के सदस्य कंवलप्रीत सिंह काकी द्वारा जोन स्तर की बड़ी बैठक पूर्व सरपंच गुरप्रीत सिंह रियाड़ के घर रखी हुई थी। जब इसकी भनक किसान संगठनों को लगी तो किसान मजदूर संघर्ष कमेटी की अध्यक्षता में किसानों द्वारा बाबा लाल सिंह जोन कुल्ली वालों के प्रधान सोहन सिंह गिल,चेंचल सिंह,सविदर सिंह की अगुवाई में भैणी मिया खां के मुख्य चौक में बड़ी एकजुटता कर बैठक करने वाली सियासी पार्टी के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी।

हालातों को काबू में रखने के लिए स्थानीय पुलिस के अलावा हलका डीएसपी कुलविदर सिंह विर्क व डीएसपी हेडक्वार्टर परमिदर सिंह भारी फोर्स के साथ पहुंच गए। वहीं विरोध में किसानों द्वारा शिरोमणि अकाली दल के पूर्व सरपंच गुरप्रीत सिंह के घर की ओर रोष मार्च निकाल भड़़ास निकालनी शुरू कर दी। इसको रोकने की कोशिश की तो किसान नेता सोहन सिंह,चेंचल सिंह व बलविदर सिंह,शमिदर सिंह, निशान सिंह ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि वह संकेतक विरोध करने आए हैं और वह अपना विरोध करके ही वापस लौटेंगे। इसके उपरांत किसान गुरप्रीत सिंह के घर के बाहर मुख्य चौक में बड़े स्तर पर एकत्र हो गए। यहां उन्होंने पंजाब व केंद्र सरकार तथा राजनीतिक पार्टियों के खिलाफ नारेबाजी की। किसानो ंका कहना है कि अकाली दल किसानी संघर्ष पर मगरमच्छ के आंसू बहा रही है। उन्होंने कहा कि उक्त पार्टी के लोगों के दोगले चेहरे सामने आ गए हैं। इस मौके पर किसान महिलाएं भी बड़ी संख्या में काले झंडे लेकर इस रोष मार्च में शामिल थी।

Edited By: Jagran