संवाद सहयोगी, बटाला :

पंजाब रोडवेज/पनबस कंट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन पंजाब व पीआरटीसी के समूह अस्थायी मुलाजिमों ने रोष रैली करके पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप कुमार, प्रदेश सचिव बलजीत सिंह गिल व डिपो प्रधान परमजीत सिंह कोहाड़ ने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से ट्रांसपोर्ट विभाग के समूह अस्थायी मुलाजिमों को स्थायी करने की मांग पर बार-बार टालमटोल किया जा रहा है। पंजाब की जनता को मुफ्त सफर सुविधाएं देने के झूठे दावे करने वाली सरकार लोगों को बसों तक मुहैया नहीं करवा सकी। मुलाजिमों का काम दुगणा होने के साथ-साथ 50 फीसदी सवारियां होने से आम जनता व मुलाजिमों को तंगी का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना महामारी में रोडवेज व पनबस मुलाजिम अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों को सुविधाएं दे रहे है। अस्थायी मुलाजिमों को पक्का नहीं किया गया और अब मुफ्त सफर सुविधाओं के नाम पर सरकारी ट्रांसपोर्ट को बंद करने की घटिया चालें चलाई जा रही है। करीब दो विभागों का 30-35 करोड़ रुपये का महीने का डीजल है, जबकि बसों की इंकम खत्म हो गई है, जबकि सरकार ने मुफ्त सफर सुविधाएं केवल वोट एकत्र करने के लिए दी है। पंजाब रोडवेज को बचाने और अपने रोजगार को बचाने के लिए वर्कर लड़ाई लड़ रहे है और महामारी के दौरान पनपस वर्कर फ्रंट लाइन पर काम कर रहे है। इस मौके पर सचिव जगदीप सिंह, राजबीर सिंह, प्रधान अवतार सिंह, कैशियर जगरूप गिल, चेयरमैन रजिदर सिंह, सरपरस्त रछपाल सिंह आदि उपस्थित थे।

पंजाब सरकार हर फ्रंट पर फेल : जत्थेदार सेवक

दलित क्रांति दल पंजाब सीनियर अकाली नेता सरवन सिंह सेवक ने हलका दीनानगर के गांवों का दौरा किया। गांव चेचियां छोड़ियां में पहुंचने पर एक बैठक निर्मल सिंह सर्कल इंचार्ज की अध्यक्षता में हुई ।

इस मौके पर जत्थेदार सरवन सिंह सेवक ने कहा कि पंजाब सरकार हर फ्रंट पर फेल साबित हुई है। हर वर्ग सरकार की नीतियों से तंग आ चुके है। सरकार ने पंजाब को प्राथमिक सुविधाओं से वंचित कर दिया है। बहुत से गरीब लोगों के नीले कार्ड काट दिए गए है,जिससे लोगों मे भारी रोष पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोग अब कांग्रेस की गलत नीतियों से जागरुक हो चुके है। इस मौके पर भुपिदर सिंह, दविदर कुमार, दर्शन सिंह, करनैल सिंह, बलदेव सिंह, सतनाम सिंह आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran