संवाद सहोयगी, गुरदासपुर : पढ़ो पंजाब, पढ़ाओ पंजाब प्रोजेक्ट के तहत जिले के 1106 स्कूलों में चल रही प्री-प्राइमरी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए पाठय सामग्री ब्लाकों को जारी कर दी गई हैं। बच्चों के मनोविज्ञान को ध्यान में रखकर खेल विधि तथा विभिन्न अन्य तकनीकों से तैयार की गई ये पुस्तकें बहुत ही रोचक हैं।

जिला कोíडनेटर पढ़ो पंजाब, पढ़ाओ पंजाब विशाल मनहास की अध्यक्षता में आयोजित इस सादे समरोह में जिला शिक्षा अधिकारी प्राइमरी सल¨वदर ¨सह समरा मुख्य तौर पर तथा उपजिला शिक्षा अधिकारी बलबीर ¨सह विशेष तौर पर शामिल हुए। पाठ्य समाग्री को जारी करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी सल¨वदर ¨सह समरा ने कहा कि शिक्षा मंत्री पंजाब अरुणा चौधरी द्वारा 14 नवंबर 2017 को बाल दिवस के अवसर पर प्राइमरी स्कूलों में प्री-प्राइमरी कक्षाओं की रस्मी शुरूआत की गई थी। प्राइमरी स्कूलों में सफलता पूर्वक चल रही नर्सरी, एलकेजी, यूकेजी कक्षाओं की पढ़ाई रोचक बनाने के लिए शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार के दिशा निर्देशों पर विभाग द्वारा भेजी गई पाठय सामग्री को जिले के 1106 स्कूलों को रिलीज कर दिया गया है। यह पाठय सामग्री नर्सरी, एलकेजी व यूकेजी कक्षाओं को शिक्षित करने के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होगी। यह पाठय सामग्री प्री प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों के बौधिक, विकास, मानसिक विकास, रचनात्मक विकास, समाजिक विकास, भावनात्मक विकास व शारीरिक विकास करने में बहुत ही सहायक होगी।

इस मौके पर बीएमटी नि¨श्चत कुमार, बीएमटी रंजीत ¨सह, बीएमटी जगदीश राज बैंस, बीएमटी द¨वदर जीत ¨सह, बीएमटी अमरजीत ¨सह, सीएमटी अनिल कुमार, सीएमटी रघु महाजन, सीएमटी ज्योति महाजन, सीएमटी संदीप शर्मा, सीएमटी सिकंदर लाल, सीएमटी संजीव गुप्ता, सीएमटी जगदीप ¨सह, सीएमटी भुवन गुप्ता, सीएमटी जसबीर ¨सह, सीएमटी संदीप काटल, सीएमटी योगेश सरंगल, सीएमटी बलकार अत्री, सीएमटी मन¨जदर ¨सह, सीएमटी दल¨जदर ¨सह, सीएमटी अजीब ¨सह व अन्य उपस्थित थे।

प्री प्राइमरी में बच्चों की संख्या में काफी इजाफा : डिप्टी डीईओ

डिप्टी डीईओ बलबीर ¨सह ने कहा कि प्री-प्राइमरी कक्षाएं सरकारी स्कूलों के लिए संजीवनी का काम कर रहीं हैं। प्री प्राइमरी कक्षाओं के सरकारी स्कूलों में शुरू होने से गरीब वर्ग को बहुत राहत मिली है। क्योंकि इससे पहले सरकारी स्कूलों में प्री प्राइमरी कक्षाएं न होने के कारण गरीब वर्ग के बच्चे प्री प्राइमरी शिक्षा पाने से वंचित रह जाते थे, परंतु अब प्री प्राइमरी कक्षाएं शुरू होने से सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या में भी बेहतरीन इजाफा हुआ है। प्री-प्राइमरी कक्षाओं के लिए तैयार की गई इस पाठय सामग्री को तैयार करते समय बच्चे के सभी पक्षों को ध्यान में रखा गया है।

10,578 बच्चे अभी तक ले चुके दाखिला : जिला कार्डिनेटर

जिला कोíडनेटर विशाल मनहास ने कहा कि जिले में प्री प्राइमरी कक्षाओं में 10,578 बच्चे अभी तक दाखिल हो चुके है। पढ़ो पंजाब, पढ़ाओ पंजाब के द्वारा प्री प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों के मनोविज्ञान को मद्देनजर रख नई तकनीकों से भरपूर 32 किस्म की तैयार की गई इस पाठय समाग्री से प्री प्राइमरी कक्षाओं की नुहार में पहले से ज्यादा निखार आएगा। यह सामग्री बच्चों की पढ़ने में रूचि बनाने के लिए अहम रोल अदा करेगी। इससे पढ़ने व पढ़ाने की प्रक्रिया में सुधार व गुणवत्ता बढ़ जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!