जेएनएन, गुरदासपुर/पठानकोट। खुफिया एजेंसियों के इनपुट, जैश-ए-मोहम्मद की धमकी व पाक की तरफ से ड्रोन के जरिए हथियार भेजे जाने के बाद प्रदेश में सतर्कता और बढ़ा दी गई है। उसी के मद्देनजर वीरवार को BSF के DG विवेक कुमार जौहरी व ADG सुरेंद्र पवार ने सीमावर्ती क्षेत्र माधोपुर व डेराबाबा नानक का दौरा किया। पहले वह हेलीकॉप्टर से पठानकोट के माधोपुर पहुंचे।

DG विवेक कुमार जौहरी व ADG सुरेंद्र पवार यहां 45 मिनट सुरक्षा प्रबंधों को लेकर मीटिंग के बाद वह जीरो लाइन पर भारत के अंतिम गांव गांव सिबंल स्कोल व टींडा बॉर्डर पहुंचे। वहां सेना के अधिकारियों के साथ क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति का खुद जायजा लिया। सुरक्षा को लेकर निर्देश भी दिए। पठानकोट के दौरे के बाद DG जौहरी डेरा बाबा नानक में Kartarpur Corridor की सुरक्षा व्यवस्था व प्रबंधों का जायजा लेने पहुंचे।

उन्होंने दूरबीन से गुरुद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन भी किए। कहा कि करतारपुर कारिडोर के चलते बॉर्डर पर एक विशेष बटालियन भी तैनाती की जाएगी। जीरो लाइन के पास इस नई बटालियन की तैनाती जल्द कर दी जाएगी। इससे पहले BSF की दस बटालियन के कमांडेंट वरिंदर वाजपाई, डिप्टी कमांडेंट आरएस यादव व सहायक कमांडर मनीष कुमार ने करतारपुर टर्मिनल व Kartarpur Corridor के हो रहे निर्माण कार्यों की जानकारी दी। सूत्रों के अनुसार DG ने यह दौरा पंजाब में फिर से आतंकी गतिविधियां सक्रिय करने के एजेंसियों के इनपुट के बाद किया है। उनके दौरे के बाद बमियाल सेक्टर के गांवों में सर्च आपरेशन भी किया गया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!