जागरण संवाददाता, गुरदासपुर : पंजाब सरकार ने लोकतंत्र का कत्ल कर पूरे पंजाब में जिला परिषद व ब्लॉक समिति चुनाव के दौरान अकाली उम्मीदवारों के नामांकन रद करवाए हैं। इससे साबित होता है कि कांग्रेस चुनाव प्रक्रिया से भाग रही है। जिला गुरदासपुर में अकाली दल की ओर से तीन विधान सभा हलकों गुरदासपुर, डेरा बाबा नानक व फतेहगढ़ चूडि़यां में चुनाव का बायकॉट किया जाएगा।

उक्त विचार शिरोमणि अकाली दल बादल के जिला प्रधान गुरबचन ¨सह बब्बेहाली ने गुरदासपुर में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहे। उनके साथ हलका बटाला के विधायक लखबीर ¨सह लोधीनंगल, पूर्व मंत्री सेवा सिंह सेखवां के बेटे जगरूप ¨सह सेखवां, मिल्क प्लांट के चेयरमैन व अकाली नेता अमरजोत ¨सह बब्बेहाली भी उपस्थित थे।

बब्बेहाली ने कहा कि कांग्रेस चुनाव से भाग रही है, जिसके चलते अकाली उम्मीदवारों के नामांकन ही रद करवा दिए हैं, ताकि उन्हें हार का मुंह न देखना पड़े। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ने अपने डेढ़ साल के कार्यकाल के दौरान कुछ ऐसा किया है, जिसके दम पर वह जीत का दावा करती है, तो उनके सभी उम्मीदवारों के नामांकन बहाल किए जाएं। उन्होंने कहा कि दस साल तक विधायक रहने के दौरान उन्होंने कभी भी कांग्रेसियों के किसी भी चुनाव के दौरान नामांकन रद नहीं करवाए। जबकि कांग्रेस द्वारा लोकतंत्र ही हत्या कर बड़े स्तर पर अकालियों के नामांकन ही रद करवा दिए गए। उन्होंने दावा किया कि आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान फिर से उनकी सरकार बनेगी, लेकिन वह तब भी लोकतांत्रिक प्रक्रिया पर विश्वास रखते हुए किसी का भी नामांकन रद नहीं करवाएंगे।

कहां किया बायकॉट

प्रधान बब्बेहाली ने बताया कि अकाली दल की ओर से जिले में उन विधान सभा हलकों में जिला परिषद व ब्लॉक समिति चुनावों के बायकॉट का फैसला किया गया है, जहां पर उनके नामांकन रद होने के बाद बचे उम्मीदवार जीतने के बाद भी उन्हें बहुमत नहीं मिल सकता। जबकि जिले के उन तीन हलकों यहां अब भी उनके उतने उम्मीदवारों को नामांकन रद नहीं हुए, जिनके जीतने से उन्हें बहुमत मिल सकता है, वहां पर चुनाव लड़ा जाए। पार्टी फैसले के तहत गुरदासपुर, डेरा बाबा नानक व फतेहगढ़ चूडि़यां में चुनाव का बायकॉट किया जाएगा। जबकि कादियां, श्रीहरगो¨बदपुर व बटाला में चुनाव लड़ा जाएगा। इसके साथ ही जिले से भाजपा कोटे से हलका दीनानगर से भी तकरीबन सभी गठबंधन उम्मीदवारों के नामांकन रद हो गए हैं, लेकिन इस हलके का अंतिम फैसला भाजपा पर छोड़ दिया गया है।

एसडीएम के खिलाफ जाएंगे हाईकोर्ट

बब्बेहाली ने कहा कि एसडीएम सकत्तर ¨सह बल की ओर से अकाली उम्मीदवारों पर बिना किसी वजह से ऑब्जेक्शन लगाकर उनके नामांकन पत्र रद कर दिए गए। जिसके पूरे सबूत वह एकत्र कर रहे हैं और एसडीएम के खिलाफ वह हाईकोर्ट में जाएंगे। किस हलके में कितने नामांकन रद

हलका का नाम- कुल उम्मीदवार रद नामांकन बचे उम्मीदवार

गुरदासपुर 25 17 8

डेरा बाबा नानक 42 40 2

बटाला 14 14 14

फतेहगढ़ चूडि़यां 34 21 13

कादियां 32 16 16

श्रीहरगो¨बदपुर 34 17 17

दीनानगर 16 11 5

Posted By: Jagran