जागरण संवाददाता, गुरदासपुर : नगर कौंसिल चुनाव के दौरान सामने कोई उम्मीदवार नहीं होने से बिना मुकाबला पार्षद बनने के बाद सोमवार को एडवोकेट बलजीत सिंह पाहड़ा को समूह 29 पार्षदों ने सर्वसम्मति से नगर कौंसिल का प्रधान चुन लिया। पार्षद रानी को उप प्रधान चुना गया है। चुनाव प्रक्रिया में एसडीएम अर्शदीप सिंह बतौर आब्जर्वर शामिल हुए जबकि विधायक बरिदरमीत सिंह पाहड़ा विशेष रूप से शामिल हुए।

सोमवार को नगर कौंसिल के प्रधान के चुनाव के लिए समूह पार्षद कौंसिल कार्यालय में एकत्र हुए। यहां पर आब्जर्वर एसडीएम अर्शदीप सिंह के नेतृत्व में चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई। इस दौरान पार्षद पुरुषोत्तम लाल भुच्ची ने प्रधानगी पद के लिए वार्ड नंबर-2 के पार्षद एडवोकेट बलजीत सिंह पाहड़ा का नाम पेश किया गया। इस पर पार्षद बलविदर सिंह ने भी सहमति जताई। इसके बाद समूह पार्षदों ने भी एडवोकेट बलजीत पाहड़ा के नाम पर ही सहमति जताते हुए उन्हें प्रधान नियुक्त कर दिया गया। इसके बाद समूह पार्षदों ने सर्वसम्मति से वार्ड नंबर 13 की पार्षद रानी को उपप्रधान चुना। नए प्रधान बोले-विकास करवाना प्राथमिकता

नवनियुक्त प्रधान एडवोकेट बलजीत सिंह पाहड़ा ने कहा कि शहर का सर्वपक्षीय विकास करवाना ही उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने अपनी नियुक्ति के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़, विधायक बरिदरमीत सिंह पाहड़ा व समूह कांग्रेस लीडरशिप का आभार जताया। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी विधायक बरिदरमीत सिंह पाहड़ा के नेतृत्व में शहर का सर्वपक्षीय विकास करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस साल को सुपर डवलपमेंट के नाम से मनाया जाएगा, जिसके तहत शहर के सभी अधूरे विकास कार्यो को मुकम्मल कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि शहर के विभिन्न चौकों के नवीनीकरण का काम चल रहा है, उन्हें जल्द ही पूरा करने के साथ साथ और बड़े प्रोजेक्ट लाए जाएंगे। 31

विभिन्न राजनीतिक पदों पर कर चुके काम

एडवोकेट बलजीत सिंह पाहड़ा के पास राजनीति का लंबा तर्जुबा है। इससे पहले वे यूथ कांग्रेस में तीन साल लोकसभा हलका गुरदासपुर के सचिव, तीन साल हलका गुरदासपुर के प्रधान व करीब डेढ़ साल मिल्क प्लांट गुरदासपुर के चेयरमैन के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। मौजूदा समय भी वे यूथ कांग्रेस के जिला प्रधान के रूप में काम कर रहे हैं। उनकी सबसे बड़ी जीत यह रही कि नगर कौंसिल चुनाव के दौरान वार्ड नंबर-2 से विरोधियों को उनके खिलाफ उम्मीदवार ही नहीं मिल पाया। इसके चलते वे बिना मुकाबला चुनाव जीत गए। घार्मिक जगहों पर हुए नतमस्तक

एडवोकेट बलजीत सिंह पाहड़ा अपना कार्यभार संभालने के बाद जेल रोड पर स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा व उसके बाद हनुमान चौक में स्थित हनुमान मंदिर में नतमस्तक हुए। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी जब जब उन्हें जीत का सेहरा मिला है, उक्त दोनों जगहों पर नतमस्तक होकर भगवान का आशीर्वाद लेते रहे हैं। इस दौरान उनका पूरा परिवार भी उनके साथ मौजूद था। विकास के लिए अब बन गई है पूरी टीम

विधायक बरिदरमीत सिंह पाहड़ा ने कहा कि आज समूह पार्षदों ने सर्वसम्मति से बलजीत सिंह पाहड़ा को प्रधान व पार्षद रानी को उप प्रधान चुना है। उन्होंने बताया कि उक्त प्रधान बनी पार्षद रानी यहां महिला हैं, वहीं एससी से संबंधित भी हैं। उन्होंने नवनियुक्त प्रधान, उप प्रधान व समूह पार्षदों को बधाई देते हुए कहा कि यहां वे पिछले चार साल से शहर में लगातार विकास करवा रहे हैं, वहीं अब उनकी एक मजबूत टीम बन गई है। इससे शहर में चल रहे समूह विकास कार्यों को इस साल में मुकम्मल कर लिया जाएगा। इसके बाद गुरदासपुर शहर विकास व सुंदरता में अग्रिम शहरों की कतार में आकर खड़ा हो जाएगा। पिछले कुछ दिनों से हनुमान चौक को लेकर चल रही चर्चाओं संबंधी पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी धार्मिक स्थानों पर पूरी निष्ठा है। वे लोगों की धार्मिक भावनाओं का पूरा सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि हनुमान चौक को हमेशा हनुमान चौक के नाम से ही जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि फिलहाल चौक का केवल नींव पत्थर रखा गया है। अभी वह पूरी तरह से तैयार भी नहीं हुआ, लेकिन विरोधियों द्वारा पहले ही उस पर सियासत शुरू कर दी गई है।

Edited By: Jagran