संजय वर्मा, फिरोजपुरः जमीन से लेकर अंतरिक्ष तक हर क्षेत्र में महिलाएं सफलता का झंडा फहरा रही हैं। विभिन्न क्षेत्रों में सफल महिलाओं से बालिकाएं प्रेरित हों और स्वावलंबन की राह पर बढ़ें, इसके लिए एक महिला प्रशासनिक अधिकारी ने अनूठी पहल की है। भारत-पाकिस्तान सीमा पर बसे पंजाब के फिरोजपुर जिले की डिप्टी कमिश्नर अमृत सिंह ने एक मार्ग के दोनों तरफ जिले की 32 सफल महिलाओं की तस्वीरों वाले बोर्ड लगवाए हैं। इन पर यह भी लिखा है कि ये महिलाएं किस क्षेत्र में सफल हुई हैं। इस सड़क का नाम नारी शक्ति मार्ग रखा गया है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का स्लोगन चित्रित करते हुए नारी शक्ति मार्ग को सुंदर तरीके से तैयार किया गया है। उत्तर प्रदेश की रहने वाली अमृत सिंह को फिरोजपुर जिले की पहली महिला कमिश्नर होने का गौरव प्राप्त है। जिन सफल महिलाओं की तस्वीरें लगाई गई हैं, उनमें प्रशासनिक अधिकारी, चिकित्सक, प्रिंसिपल, व्यवसायी और राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी शामिल हैं।

युवा पीढ़ी को पसंद आई पहल

यह पहल युवा लड़कियों की भी पसंद आ रही है। बारहवीं की छात्रा नेहा कहती हैं कि इस मार्ग पर आती हूं तो विभिन्न क्षेत्रों में सफल महिलाओं की तस्वीरें देखकर मुझमें उत्साह पैदा होता है। मेरे मन में भी विश्वास जागता है कि मैं कुछ कर सकती हूं।

...ताकि हर बालिका को खुद पर गर्व हो

डिप्टी कमिश्नर अमृत सिंह कहती हैं कि जिले की पहली महिला डिप्टी कमिश्नर होने पर मुझे गर्व है। मैं चाहती हूं कि हर बालिका कुछ ऐसा करे, जिससे उसे खुद पर गर्व हो। इसी उद्देश्य से हमने एेसी महिलाओं की उपलब्धियों को दर्शाया है, जिन पर फिरोजपुर को नाज है।

फिरोजपुर की डिप्टी कमिश्नर अमृत सिंह ने बताया कि फिरोजपुर जिला पाकिस्तान की सीमा पर स्थित है। सीमावर्ती इलाका होने की वजह से यह विभिन्न समस्याओं से ग्रसित है। ऐसे में विभिन्न समस्याओं से जूझते हुए विभिन्न क्षेत्रों में सफलता पाना यहां की महिलाओं के लिए अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है।

Edited By: Sanjay Pokhriyal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट