संस, अबोहर : सफाई कर्मचारियों की हड़ताल दस दिन से जारी है। कर्मियों का चार महीने का वेतन बकाया है। एक महीने का वेतन करीब 47 लाख बनता है, जिसके हिसाब से सफाई कर्मचारियों का करीब 1 करोड़ 88 लाख रुपये वेतन बकाया है। अधिकारियों द्वारा सफाई कर्मचारियों को दो महीने का वेतन जारी करने की कार्रवाई की जा रही है। उम्मीद है कल तक वेतन की अदायगी हो जाए व उसके बाद कर्मी काम पर लौट आए। अगर वेतन देने में नगर कौंसिल नाकाम रहती है तो इस बार दीपावली लोगों को गंदगी के ढेरों पर ही मनाने को मजबूर होना पड़ेगा।

सफाई कर्मियों का कहना है कि वेतन न मिलने के कारण उनके घर का गुजारा चलना मुश्किल हो रहा है व वह दूध वाले, करियाना व अन्य घर खर्च के अलावा बच्चों की स्कूल की फीस नहीं भर पा रहे यहां तक उनके लिए बीमारी का इलाज करवाना मुश्किल हो गया है। वेतन की मांग को लेकर उन्होंने काम छोड़ धरना शुरू कर दिया जो कि करीब 10 दिन से जारी है। सफाई कर्मचारियों की हड़ताल के कारण दीपावली जैसे बड़े त्योहार पर शहर की सफाई व्यवस्था चरमरा गई है। चारों तरफ कूड़े के ढेर लगने लगे हैं। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कूड़ा सड़कों तक फैलने लगा है व दुकानों व घरों से कुड़ा न उठने की वजह से लोग परेशान होकर रहे गए हैं व लोगों ने घरों व डस्टबिन गलियों में ही खाली करने शुरू कर दिए हैं। सड़कों पर गंदगी और नालियों का मलबा फैला पड़ा है। दुर्गंध के चलते शहरियों को अपनी नाक व चेहरा बंद कर निकलना पड़ रहा है। कई दिनों से बाजारों व मोहल्लों की सफाई नहीं हुई है। ऐसे में बाजारों में कूड़े के ढेर लग रहे हैं। लोग बराबर नगर पालिका के जिम्मेदारों से शिकायत कर रहे हैं, लेकिन कर्मचारियों की हड़ताल के चलते वह शहरियों की समस्याओं का समाधान कर पाने में असमर्थता जता रहे हैं। कर्मचारियों की हड़ताल का खामियाजा शहरियों को भुगतना पड़ रहा है। इतना ही नहीं दुकानदार व लोग कूड़े को आग लगाने लगे हैं जिससे प्रदूषण फैलने लगा है। जहां एक तरफ सफाई कर्मी वेतन न मिलने के कारण हड़ताल पर है व ऐसा करना वह अपनी मजबूरी बता रहे हैं तो वहीं देखने में आ रहा है कि लोगों में भी जागरूकता का अभाव है।

आज हो सकती है हड़ताल खत्म

नगर परिषद के अधिकारियों का कहना है कि सफाई कर्मचारियों के अलावा दूसरे स्टाफ का वेतन भी 4 महीने से बकाया है। दीपावली के मद्देनजर कर्मियों को दो महीने का वेतन जारी करने की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने उम्मीद है कि कर्मियों को बुधवार तक वेतन जारी कर दिया जाए व उसके बाद हड़ताल खत्म हो जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!