दीपक वधावन, गुरुहरसहाय : गुरुहरसहाय नगर कौंसिल के 15 वार्डों में चुनाव परिणामों को घोषित हुए दो माह से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन कौंसिल के अध्यक्ष का पद अभी भी खाली है। वहीं अध्यक्ष बनने की चल रही जोरअजमाइश के चलते चार दिन पहले कांग्रेस के युवा नेता विक्रम नरूला ने भी कैबिनेट मंत्री व हलका विधायक राणा गुरमीत सिंह सोढी की गोलूका मोड़ स्थित कोठी राजगढ़ में अपने समर्थकों समेत अध्यक्ष पद हासिल करने के लिए शक्ति प्रदर्शन किया गया था। शक्ति प्रदर्शन में विक्रम नरूला के समर्थकों की गिनती 100 से भी पार नहीं हुई थी। विक्रम नरूला द्वारा किए गए शक्ति प्रदर्शन का पता चलते ही नौ के करीब काउंसलर, सभी धार्मिक संस्थाओं के नेताओं, सामाजसेवियों समेत सैकड़ों शहर निवासियों ने कैबिनेट मंत्री राणा सोढी के समक्ष कांग्रेस पार्टी से लम्बे समय से जुड़े व काउंसलर आत्मजीत सिंह डेविड को नगर कौंसिल का अध्यक्ष बनाने की मांग की।

इस मौके पर इकट्ठे हुए नेताओं व शहर निवासियों ने सोढी को याद दिलाया कि पूर्व नगर कौंसिल चुनाव में अकाली दल की सरकार के समय जब कोई चुनाव के लिए फार्म भरने के लिए तैयार तक नहीं हुआ था, अब आत्म जिसे डेविड ने ही अकाली दल के बड़े नेताओं के बराबर फार्म भर सभी वार्डों से चुनाव लड़ने का जिम्मेदारी उठाई थी जिसकी एवज में डेविड को शिरोमणि अकाली दल के सियासी जुल्म का शिकार भी होना पड़ा था, लेकिन डेविड ने जुल्म से प्रताड़ित होने के बाद भी कैप्टन मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी वह कांग्रेस पार्टी का पल्ला नहीं छोड़ा था ।

जबकि विक्रम नरूला अकाली दल को छोड़ कांग्रेस के सत्ता हासिल करने पर निजी फायदे के लिए कांग्रेस में शामिल हुए हैं। बात करें काउंसलरों की तो भारत भूषण शर्मा, गुरमीत कौर, एकता रानी, शरणजीत कौर, महेंद्र कौर, अनीश डेमरा, राकेश बजाज, उड़ीक चंद के साथ एक और काउंसलर भी अपना समर्थन देकर डेविड को ही नगर कौंसिल अध्यक्ष बनाना चाहते हैं, ओर तीसरी तरफ पर्यावरण मंत्री राणा सोढी के रिश्तेदार बेदी परिवार जगदीश कुमार को अध्यक्ष पद पर बिठाना चाहते जिसके लिए वे जोर अजमाइश की जा रही है ।

लेकिन यह सब कैबिनेट मंत्री व हलका विधायक राणा गुरमीत सिंह सोढी की सूझबूझ पर ही निर्भर है कि वह गुरुहरसहाय से पार्टी की साख बचाने के लिए आत्मजीत सिंह डेविड को नगर कौंसिल का अध्यक्ष बनाते हैं या फिर अपने चहेते के सिर ताज सजाते हैं, फिलहाल चर्चा में है कि कैबिनेट मंत्री द्वारा काउंसलरों की सहमति लेने के लिए कीटिग बुलाई गई है, उसके बाद ही सर्वसम्मति से नगर कौंसिल के अध्यक्ष का चयन किया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप