फिरोजपुर [प्रदीप कुमार सिंह]। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के छह से सात आतंकियों के सड़क मार्ग से फिरोजपुर में दाखिल होने की आशंका से सुरक्षा एजेंसियां शुक्रवार को भी चौकस रहीं और तलाशी अभियान जारी रखा। सरहदी गांवों व कस्बों के लोगों तक आतंकियों की वायरल हो रही तस्वीरों को सुरक्षा बलों ने वाट्सएप के जरिये पहुंचा दिया है। सुरक्षा अधिकारियों को आशंका है कि आतंकी दिल्ली जाने के बजाय राजस्थान की सीमा में जा सकते हैं, क्योंकि वहां विधानसभा चुनाव है। आतंकी किसी रैली या सभा में वारदात कर सकते हैं।

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने भी फिरोजपुर बॉर्डर रेंज के साथ ही अबोहर व पंजाब के अन्य बॉर्डर रेंजों की पोस्टों व सतलुज दरिया से सटे हिस्सों में उक्त आतंकियों की फोटो भेज दी है। डीएसपी जसपाल सिंह ने बताया कि पुलिस पूरी मुस्तैदी से वाहनों की चेकिंग कर रही है। सुरक्षा एजेंसियों के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अब तक जो सूचना मिल रही थी उसके अनुसार आतंकियों के दिल्ली जाने की बात सामने आ रही थी।

अब तक जो जांच-पड़ताल हुई है उससे यह सामने निकल कर आया है कि यदि आतंकियों ने फिरोजपुर की तरफ मूवमेंट की होगी तो उनका मकसद फिरोजपुर, फाजिल्का हाईवे के रास्ते राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में दाखिल होना हो सकता है। राजस्थान में विधानसभा चुनाव प्रचार चल रहा है, ऐसे में आतंकियों के मंसूबे वहां पर गड़बड़ी फैलाने के हो सकते हैं। उक्त आशंका को देखते हुए हाईवे व टोल प्लाजा पर अतिरिक्त सतर्कता बढ़ा दी गई है।

दूसरी तरफ काउंटर इंटेलिजेंस के एआइजी नरिंदर सिंह ने कहा कि अभी तक कहीं से किसी आतंकी के फिरोजपुर में होने का कोई सुराग नहीं मिला है। फिरोजपुर जिले की 90 किलोमीटर से अधिक की सीमा पाकिस्तान से सटी होने व सतलुज दरिया के भारत-पाकिस्तान के मध्य स्थित अंतरराष्ट्रीय सरहद को कई बार क्रॉस होने को देखते हुए सुरक्षा बलों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी पड़ रही है।

साफ मौसम ने आतंकियों के इरादों पर फेरा पानी

सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार साफ मौसम ने आतंकियों के इरादों पर पानी फेर दिया है। पिछले तीन दिनों से मौसम साफ है। ऐसे में यदि आंतकियों की कोई मूवमेंट हुई तो उन्हें मार गिराया जाएगा। दिन व रात्रि के समय दूर तक दिखाई देने से आतंकी सुरक्षा बलों की निगाह में आसानी से आ सकते हैं। धुंध उनके आवागमन में बड़ी मददगार साबित होती है।

अमृतसर के सभी रास्तों पर नाकेबंदी

आतंकी जाकिर मूसा को कुछ समय पहले अमृतसर में मौजूद होने की सूचना के बाद शहर को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है। फिरोजपुर-तरनतारन और गुरदासपुर-बटाला के जरिए गुरु नगरी तक पहुंचने वाले सभी रास्तों पर नाकाबंदी करके अर्धसैनिक बल तैनात कर दिए गए हैैं। दूसरी तरफ पठानकोट में चार संदिग्धों द्वारा लूटी गई इनोवा के मामले में पुलिस के हाथ 72 घंटे बाद भी खाली हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!