संवाद सूत्र, फिरोजपुर : जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स के बाहर सोमवार शाम जीरा के गांव मंसूरदेवा के किसानों ने 11 ट्रालियों में भरकर 80 से ज्यादा बेसहारा पशु छोड़ दिए। इससे काफी देर तक रोड पर जाम लग गया। किसान बलजिद्र सिंह, रणबीर सिंह राणा, अमनदीप सिंह, इंद्रजीत सिंह ने कहा कि राज्य सरकार व जिला प्रशासन बेसहारा पशुओं की समस्या हल करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं। इससे ये मवेशी खेतों में घुसकर उनकी फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं। रोष जताते किसानों ने कहा कि जिले के सुधार के लंबे-चौड़े दावे करने वाले डीसी बेसहारा मवेशियों की समस्या पर चुप्पी धरे बैठे हैं। उन्होंने कहा कि न तो इस बारे में शहरियों का दु:ख दिखता है और न ही ग्रामीणों का। समाजसेवी सूरज मेहता ने कहा कि सरकार व प्रशासन को गोवंश की संभाल के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है। काऊ सेस एकत्रित करने वाली सरकार गायों की संभाल पर बेबस दिख रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!