फिरोजपुर, जेएनएन। जिले के पाकिस्‍तान सीमा से सटे ममदोट इलाके में आतं‍कियों के आबादी वाले हिस्से व जंगलों में छिपे हाेने के इनपुट मिले हैं। इसके बाद पुलिस और सुरक्षा बलाें ने गांवों साथ-साथ जंगली इलाके में भी व्‍यापक तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। सर्च अभियान में बम निरोधक दस्‍ता अौर डॉग स्कावयड को भी शामिल किया गया है। पूरे क्षेत्र की नाकेबंदी कर दी गई है।

बता दें कि ममदोट क्षेत्र के गांव बस्ती गुलाब सिंह वाला में आंतकियों के छिपे होने की सूचना मिलने के बाद पिछले दो दिन से गांव में तलाशी अभियान चलाया जा रहा था। बताया जाता है कि बृहस्‍पतिवार को आतंकियों के जंगली क्षेत्र व उसके आसपास के किसी गांव में छिपे होने का इनपुट मिला। इसके बाद व्‍यापक सर्च अॉपरेशन शुरू किया गया।

सर्च ऑपरेशन के दौरान तैनात जवान।

पुलिस और अर्द्ध सैनिक बलों के जवानों ने पूरे ममदोट क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। पुलिस को इनपुट मिला की कई आतंकी ममदोट क्षेत्र के जंगलों में छिपे हैं। इसके बाद सरहदी गांवों व जंगलों में व्यापक तलाशी अभियान शुरू किया गया। तलाशी अभियान में पुलिस व सुरक्षा जवानों के साथ बम निरोधक दस्ता और डॉग स्कावयड भी शामिल हैं। इस तलाशी अभियान के बारे में पुलिस का कोई भी अधिकारी कुछ बाेलने को तैयार नहीं है। 

इसके साथ ही क्षेत्र डेढ़ दर्जन से अधिक पुलिस नाके लगाए गए हैं। नाकों की निगरानी स्‍वयं एसएसपी प्रीतम सिंह कर रहे हैं। ममदोट की ओर आने-जाने वाले सभी रास्तों पर पुलिस ने नाके लगाए रखे हैं। इन रास्‍तों से गुजरने वाले सभी वाहनों और लोगों की गहन जांच की जा रही है।

जांच करते बम निरोधक दस्‍ते के कर्मी।

बता दें के ममदोट इलाके में मंगलवार रात हथियारबंद कुछ संदिग्‍ध लोग देखे गए थे। इस बारे में सूचना मिलने के बाद पंजाब पुलिस और अर्द्ध सैनिक बलों ने अपना घेरा डाल दिया। पूरे इलाके के घेर कर सर्च ऑपरेशन चलाया गया। अाइजी सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की निगरानी में अाबादी सहित कृ‍षि क्षेत्र में भी तलाशी अभियान चलाया गया।

बताया जाता है कि ग्रामीणों ने ममदोट कस्‍बे के पास इन संदिग्‍ध लोगों को देखा। लोगों ने उनके कस्‍बे के पास स्थित गांव बस्ती गुलाब सिंह वाला में छिपे होने की आशंका जताई। इसके बाद पुलिस और सुरक्षा बलों के जवानों ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया।

गांव में डेरा डाले पुलिस।

गांव बस्ती गुलाब सिंह वाला को मंगलवार की शाम सात बजे से पुलिस ने घेर लिया। सैकड़ों पुलिस जवानाें ने गांव में घर-घर की तलाशी ली। डोर टू-डोर सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं। हालांकि इस सर्च ऑपरेशन का कारण फिरोजपुर रेंज के आइजी एमएस छीना इनपुट मिलने की बात स्वीकार करते हुए इसे रूटीन चेकिंग बता रहे हैं।

पखवाड़े भर पहले सुरक्षा एजेंसियों की ओर से छह से सात आंतकियों के फिरोजपुर में दाखिल होने की जो इनपुट मिला था। इसे बस्ती गुलाब सिंह वाला में मंगलवार से पुलिस द्वारा चलाए जा रहे ऑपरेशन को जोड़ कर देखा जा रहा है। ऑपरेशन पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस बल के साथ गांव में आधा दर्जन से अधिक दूसरी सुरक्षा एजेंसियों के भी अधिकारी व जवान मुस्तैद हैं।

गांव में मौजूद एक सुरक्षा एजेंसी के अधिकारी ने बताया कि गांव में पिछले कुछ समय से पाकिस्तानी मोबाइल कपंनी का सिम ऑपरेट हो रहा है। यह सिम किसी तस्कर द्वारा प्रयोग किया जा रहा है या फिर किसी आतंकी द्वारा। उन्होंने बताया कि दोपहर के समय सिम की लोकेशन ममदोट किले के पास आने लगी। इसके बाद किले के आसपास ऑपरेशन शुरू किया, तो वहां भी कुछ नहीं मिला।

नंबरदार के घर से पुलिस ने शुरू किया सर्च ऑपरेशन : सरपंच

बस्ती गुलाब सिंह वाला के सरपंच हरभजन सिंह ने बताया कि रात नौ बजे गांव के नंबरदार प्रीतम सिंह के घर पुलिस पहुंची थी। प्रीतम सिंह को पुलिस खेत में भी जांच के लिए ले गई। उसके बाद पूरे गांव की तलाशी ली गई। उन्होंने कहा कि उन्हें अभी तक यह न तो किसी ने बताया है और न ही कहीं से पता चलता है कि पुलिस ने गांव को क्यों घेर रखा है। गांव में बाहर से आने वालों का प्रवेश प्रतिबंधित कर रखा गया है। गांव से बाहर से आने वालों को विशेष जांच के बाद ही बाहर आने दिया जाता है।

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!