जेएनएन, फिरोजपुर। एनडीपीएस एक्ट में जेल में बंद पिता को हेरोइन की सप्लाई देने आए बेटे को चेकिंग के दौरान जब खोजी कुत्तोंं ने सूंघा तो वह पकड़ा गया। थाना सिटी को दी लिखित शिकायत में सहायक जेल अधीक्षक ने बताया कि सारज सिंह जेल में हवालाती है और उस पर थाना सदर में केस नंबर 19 दर्ज हुआ था। 

सारज का बेटा बलराज सिंह जब अपने पिता से मिलने आया तो रूटीन चेेकिंग के दौरान उसकी तलाशी अभियान हुई। इस दौरान खोजी कुत्ते नूरी ने सूंघकर युवक के पास कोई आपत्तिजनक वस्तु होने का इशारा किया। जेल गार्डस ने तलाशी के दौरान युवक के पास से 10 ग्राम हेेरोइन जैसा पदार्थ बरामद किया है। उसने हेरोइन गुद्दा में छिपा रखी थी। जेल प्रशासन द्वारा मौके पर थाना सिटी पुलिस को बुलाकर बलराज सिंह को पुलिस के हवाले किया। सब इंस्पेक्टर जरनैल सिं ह ने बताया कि पुलिस ने बाप-बेटा के खिलाफ मामला दर्ज कर उनसे पूछताछ शुरू कर दी है।

बता दें, अप्रैल माह में भी जेल में ऐसे ही दो मामले सामने आ चुके हैंं। पहले मामले में जेल अस्पताल में तैनात लैब टेेक्नीशियन जेल में बंदी को नशे की सप्लाई करते हुए पकड़ा गया था तो दूसरे मामले में जेल के आरे में तैनात कर्मी नशे की सप्लाई करते हुए रंगे हाथोंं गार्ड ने काबू किया था।

इतना ही नहीं इससे पहले भी बंदियो से नशा व मोबाइल मिलने की घटनाएं आम है। पिछले एक वर्ष के दौरान 100 से ज्यादा मोबाइल व सिम बंदियोंं से पकड़ी जा चुकी है और पुलिस द्वारा मात्र मामला दर्ज कर खानापूर्ति कर ली जाती है, लेकिन इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि सुरक्षा के बावजूद आखिर कैदियो तक कैसे आपत्तिजनक समान पहुंच जाता है।

सहायक अधिक्षक विपनजीत सिंह ने कहा कि जेल में सुरक्षा के पूरे बंदोबस्त है और चेेकिंग भी सख्ती से की जाती है। यही कारण है कि जेल में नशा पहुंचने से पहले ही बरामद किया जा रहा है। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!