जेएनएन, फिरोजपुर। ननद के घर आई महिला पर गांव के कुछ लोगों की निगाह खराब हो गई। वह अक्सर महिला को तंग करने लगे। एक दिन रात को महिला ने जैसे ही घर से बाहर कदम रखा छह लोगों ने उसे पकड़ लिया और फिर एकांत जगह पर ले जाकर उससे बारी-बारी सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हुई है धरपकड़ के लिए पुलिस छापामारी कर रही है।

महिला के मुताबिक छोटियां चकियां गांव में उसकी ननद रहती है। ननद का कुछ दिन पहले एक्सीडेंट हो गया था। वह उसकी देखभाल के लिए छोटियां चकियां गई थी। इस दौरान गांव के कुछ लोग उस पर गलत निगाह रखने लगे। वह जब भी अक्सर किसी काम के लिए बाहर जाती तो यह लोग उस पर फब्तियां कसते थे। 

महिला के मुताबिक 25 अप्रैल की रात को जब वह घर शौच केे लिए बाहर निकली तो इसी दौरान किसी ने उसे एकदम से पकड़ दिया। वह विरोध में शोर मचाती इससे पहले ही उसने उसका मुंह बंद कर दिया। महिला ने बताया कि इस दौरान कुल छह लोग मौजूद थे। वह जीटी रोड छोटियां चकियां गांव में ले गए। 

महिला ने बताया कि वहां बारी-बारी सभी छह लोगों ने उससे बारी-बारी सामूहिक दुष्कर्म किया। उसके बाद उसे वहीं छोड़कर मौके पर छोड़कर फरार हो गए। महिला किसी तरह घर पहुंची और परिजनोंं को घटना की जानकारी दी। बाद में मामले की शिकायत पुलिस में दी। 

पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर गांव छोटियां चकियां निवासी कुलवंत सिंह, प्रेम सिंह, विक्रमजीत सिंह, बलजीत सिंह, जगदीप सिंह और सुखविंदर सिंह के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें: अमेरिका में भारत की डॉक्टर बेटी हुई संक्रमित, आइसोलेट होकर खुद हुई ठीक, फिर जुटी इलाज में

 

यह भी पढ़ेंरेलवे ने तोड़ा अपना ही रिकार्ड, अब 116 डिब्बों की अन्न से भरी दो मालगाड़ियां दौड़ाई

यह भी पढ़ें: एक क्लिक पर डॉक्टर, राशन, पास, वित्तीय मदद सहित कई सुविधाएं, सरकार ने किया एप लांच

यह भी पढ़ें : COVID-19 पर हल्ला बोल, संदिग्ध मरीज की भीड़ में भी हो जाएगी पहचान, IIT ने बनाई डिवाइस 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!