संवाद सूत्र, गुरुहरसहाय (फिरोजपुर) : शहर के विला रिसोर्ट में ओशो फ्रेगरेंस टीम गुरुहरसहाय की ओर से आयोजित छह दिवसीय ध्यान कैंप शनिवार को संपन्न हुआ। कैंप का संचालन परम गुरु ओशो रजनीश के भाई स्वामी शेलेन्द्र सरस्वती व मां अमृत प्रिया की ओर से किया गया।

उन्होंने बताया कि कैंप में करीब 150 साधकों ने भाग लिया। कैंप में अलग-अलग ध्यान विधियों द्वारा साधकों को आनंदमयी जीवन जीने की कला सिखाई गई। स्वामी जी ने बताया कि मन की शांति सिर्फ ध्यान करने से ही आ सकती है। उन्होंने बताया कि ओशो किसी संगठन का हिस्सा नहीं है। खास बात यह है कि ओशो का कोई गुरु नहीं है, जिस तरह गौतम बुद्ध महावीर स्वामी ने खुद ही ज्ञान प्राप्त किया। इस तरह ओशो ने बी खुद ही ज्ञान प्राप्त किया। उन्होंने बताया कि वह अपने साधकों को कोई आदेश निर्देश नहीं देते। उन्होंने कहा कि शांति सिर्फ ध्यान करने से आ सकती है।

स्कूलों को बंद करने का किया विरोध संवाद सूत्र, जलालाबाद : कोरोना महामारी के चलते स्कूल बंद करने के विरोध में आल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन और सर्व भारत नौजवान सभा की ओर से शनिवार को गांव चक्क छपड़ीवाला में रोष प्रदर्शन किया गया। इस रोष प्रदर्शन का नेतृत्व सर्व भारत नौजवान सभा के प्रांतीय उप सचिव हरभजन सिंह, शिन्दरपाल, नवजोत आदि ने किया।

इस मौके नेताओं ने कहा कि पंजाब सरकार ने पिछली तालाबंदी के बाद भी सेहत सहूलियतों में कोई बढ़ावा नहीं किया। लेकिन सबसे पहले शिक्षा विभाग को बंद करने के आदेश जारी कर दिए। विद्यार्थियों के भविष्य के मद्देनजर इस तालाबंदी का विरोध उनके द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार इस फैसले पर पुन विचार करे और विद्यार्थियों के भविष्य के लिए उचित कदम उठाए। इस मौके राज, सतीश कुमार, अमन, लवप्रीत, कर्ण, अशीष कुमार, सुरेश कुमार, रजिन्दर कुमार, सुनील कुमार, अनमोल कुमार, अशोक कुमार व अन्य उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran