संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : पंजाब सरकार की तरफ से कालेजों, यूनिवर्सिटीयों के अध्यापकों को अभी तक यूजीसी का 7वां पे स्केल ना देने पर कर्मचारियों ने धरना दिया।

इसी के तहत आरएसडी कालेज में पंजाब एवं चंडीगढ़ टीचर यूनियन यूनिट की तरफ से कालेज में पंजाब सरकार के खिलाफ रोष धरना दिया। कालेज यूनियन के सीनियर नेता प्रो. अशोक कुमार गुप्ता ने पंजाब सरकार को चेतावनी दी है कि अगर अध्यापकों की जायज मांगों को जल्दी ना माना गया तो संघर्ष तेज किया जाएगा। इस मौके पर कालेज यूनियन के सीनियर सदस्य प्रो अग्रवाल, प्रोफेसर एचएस रंधावा, प्रोफेसर अनिल धीमान, प्रोफेसर गुरिन्द्र सिंह, प्रोफेसर दिलजीत सिंह, प्रोफेसर कपिल देव व प्रोफेसर शालनी सचदेवा आदि मौजूद थे।

टेट पास अध्यापकों ने रोजगार मेले में किया प्रदर्शन संवाद सूत्र, जलालाबाद : बीएड टेट पास यूनियन ने जलालाबाद की आइटीआई में पंजाबी व हिदी की 9000 पोस्टों की मांगों को लेकर रोष प्रदर्शन किया। इस मौके यूनियन नेताओं ने बताया कि उनका पिछले साढ़े चार महीने से संगरूर में धरना चल रहा है व शिक्षामंत्री विजेंद्र सिगला द्वारा उनकी मांगों को अनदेखा किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि वह सरकार के साथ कई बार बैठकें कर चुके हैं। लेकिन खजाना खाली होने व अन्य कई बहाने लगाकर उनकी बैठक में कोई हल नहीं निकला, जिस कारण उनके साथी जलालाबाद ब्लाक से मनीष वासी गांव चक्क टाहलीवाला बोदला मंडी अरनीवाला शेख सुभान अरनीवाला संगरूर सरकारी अस्पताल की टंकी पर 17 तारीख से चढ़ा हुआ है। उसने यह कदम सरकार की नीतियों से तंग आकर उठाया है, जिसकी सरकार व उस ब्लाक के एमएलए ने अभी तक सार नहीं ली। यूनियन ने बताया कि बस उनकी एकमात्र ही मांग है कि हिदी, पंजाबी, सामाजिक शिक्षा की 9000 पोस्टें जारी करे। यदि सरकार उनकी मांगों का जल्दी हल नहीं करती तो यूनियन सरकार के नुमाइंदों को हर जगह सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे।

Edited By: Jagran