संवाद सूत्र, फिरोजपुर : पंजाब एंड यूटी मुलाजिम व पेंशनर संघर्ष कमेटी ने डीसी कार्यालय के समक्ष मांगों को लेकर दूसरे दिन भी धरना जारी रखा। प्रदर्शनकारियों ने पंजाब सरकार के खिलाफ अर्थी फूंक प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में शामिल विभिन्न विभागों के मुलाजिमों व पेंशनरों ने सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की। कमेटी के पदाधिकारी संत राम, कृष्ण चंद जागोवालिया, मनोहर लाल, राम प्रसाद, अजीत सिंह सोढ़ी, ओम प्रकाश ने कहा कि पंजाब सरकार ने चुनावों के दौरान जो वादे किए थे, वे पूरे नहीं किए हैं। कमेटी की मुख्य मांगों में आंगनबाड़ी वर्करों व अन्य विभागों के कर्मचारियों को पक्का करना, मनरेगा वर्करों को 200 दिन का काम दिया जाए। मिड-डे-मील वर्करों को पक्का किया जाए। मुलाजिमों की रेगुलर भर्ती करना आदि मांगें शामिल हैं। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि सरकार ने यदि जल्द ही उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया तो दो फरवरी को देश भगत यादगार हाल जालंधर में होने वाली कन्वेंशन में कर्मचारी बड़े संघर्ष का ऐलान करेंगे और स्टेट कमेटी के फैसले अनुसार 17 जनवरी को भी डिप्टी कमिश्नर कार्यालय के आगे अर्थी फूक प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके पर प्रवीण कुमार, विलसन, मनोहर लाल, पिपल सिंह, शुबेग सिंह, चरनजीत सिंह, राजपाल सिंह, मलकीत चंद, जसविन्द्र सिंह, बलबीर सिंह, बलवीर सिंह गोखीवाला, अजीत सिंह, शेर सिंह, बलवंत सिंह संधू, रजिन्द्र संधा, राकेश सैनी, अश्वनी कुमार, अजीत गिल आदि ने विचार रखे और सरकार से कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने की अपील की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!