संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : जिले में रविवार को कोरोना का कोई नया केस नहीं मिला, जबकि एक संक्रमित स्वस्थ हुआ है। जिले में अब कोरोना के नौ केस ही एक्टिव है। जिले में अब तक 278039 लोगों के टेस्ट किए गए हैं, जिनमें से 14315 पाजिटिव केस पाए गए हैं और उनमें से 13803 लोग ठीक भी हो गए हैं। सेहत विभाग के अधिकारियों ने कोरोना से बचाव के लिए कोरोना गाइडलाइंस के पालन की अपील की है।

5233 बच्चों को पिलाई पोलियोरोधी बूंदें संवाद सूत्र, फाजिल्का : तीन दिवस पल्स पोलियो अभियान के पहले दिन रविवार को जिले के 5233 बच्चों को पोलियोरोधी बूंदें पिलाई गई। सिविल सर्जन डा. देवेंद्र ढांडा ने बताया कि जिला फाजिल्का में प्रवासी बच्चों की कुल जनसंख्या लगभग 10310 है, जिसके लिए 34 रेगुलर टीमें और 37 मोबाइल टीमें लगाई गई है। इन टीमों की सुपरविजन के लिए 13 सुपरवाइजर लगाए गए हैं, जोकि सुनिश्चित करेंगे कि जिले में कोई भी प्रवासी बच्चा पोलियो बूंदों के बिना न रहे।

टीमें जिले की सभी ढाणियों, खेतों, फैक्ट्रियों, सड़कों, कंस्ट्रक्शन साइट्स, ईंटें बनाने वाली फैक्ट्रियों में जाकर बच्चों को पोलियोरोधी बूंदे पिलाएंगी। बेशक जिले में कोई पोलियो का कोई केस नहीं है। लेकिन बाहर से कोई भी केस आकर यहां बच्चों को संक्रमित न कर सके। इसके लिए सभी बच्चों को पोलियोरोधी बूंदें पिलाना आवश्यक है। इस मौके जिला मास मीडिया अधिकारी अनिल धामू ने सभी फैक्ट्रियों, कारखानों व जिनके भी घरों या खेतों में प्रवासी मजदूर रह रहे हैं उनके मालिकों को अपील करते कहा कि अगर उनके यहां कोई भी प्रवासी बच्चा है और उसको पोलियो बूंदे नहीं पिलाई गई या किसी कारण रह गया तो अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र या सिविल अस्पताल से जरूर संपर्क करें। उन्होंने बताया कि जो भी बच्चे रह गए हैं, उन्हें सोमवार व मंगलवार को बूंदें पिलाई जाएगी।

Edited By: Jagran