संजय वर्मा/रमन बहल. गुरुहरसहाय (फिरोजपुर)। Punjab Drug: पंजाब में नशा सप्‍लाई के लिए नए-नए तरीके आजमाए जा रहे हैं। इसके साथ ही महिलाएं भी नशे के काले कारोबार में लगी हुई हैं। फिरोजपुर के गुरुहरसहाय में ननद और भाभी नशा करते-करते हेरोईन की सप्लायर बन गईं। उन्‍होंने लोगों की निगाह में आने से बचने के लिए अपनी घरेलू सहायिका यानि नौकरानी को अपना जरिया बनाया। इस दौरान नौकरानी भी नशे की आदी हो गईं।

फिरोजपुर के गुरुहरसहाय क्षेत्र में घरों में नशे की सप्‍लाई के मामले आते रहे हैं सामने

दरअसल फिरोजपुर की सब तहसील गुरुहरसहाय में घरों के नशे सप्लाई होने का मामला सामने आता रहा है। हालत क्‍या हैं इसका पता महिलाओं की सक्रियता से चल जाता है। पुलिस ने ननद  व भाभी के साथ उनकी नौकरानी को  11 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया है। इसके बाद जो उनके नशा नेटवर्क का पता चला तो पुलिसकर्मी भी हैरान रह गए। आरोपित महिलाएं हेरोइन कहां से लेकर आती थी अभी नहीं बता रही हैं। वैसे, जांच अधिकारी अश्वनी कुमार ने कहा बड़ा ड्रग सप्लायर इनको कहीं भी डिलिवरी दे जाता था और नौकरानी इसमें अहम भूमिका निभाती थी।

लोगाें की निगाह से बचने के लिए ननद-भाभी कर रही थीं नौकरानी का इस्‍तेमाल 

गुरुहरसहाय में ही करीबन एक दर्जन महिलाओं पर हेरोइन, नशीली गोलियां सप्लाई करने के मामले पिछले 15 दिनों में दर्ज हुए हैं। ननद व उसकी भाभी अभी महज 26 साल की है। दस साल पहले ही इनको नशे की लत लग चुकी थी। सरीहवाला रोड गुरुहरसहाय की रहने वाली आरोपित महिलाओं के बारे में पड़ोसियों ने बताया कि ये नशा करती हैं इतना तो पता था लेकिन नशा सप्लाई भी करती हैं जानकारी नहीं थी। ननद व भाभी को दो बार नशा मुक्ति केंद्र में भी भर्ती करवाया गया था।

नशा सप्‍लाई करने के लिए तय हाेती थी जगह 

28 वर्षीय महिला इनके घर में काम करती थी। जो अब खुद नशा करती है और मालकिनों के कहने पर बाहर किसी को भी नशा सप्लाई करने चली जाती थी। हालांकि नशा घरों में सप्लाई न कर तय जगह पर दिया जाता था लेकिन महिलाओं के ग्राहक पक्के है। किसको कहां हेरोइन देनी है दोनों महिलाएं तय करती थी।

पुलिस ने तीनाें महिलाओंं के साथ एक ग्राहक को भी पकड़ा   

इस मामले की जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर अश्वनी कुमार ने कहा लंबे समय से नशा करने वालों को कहीं से भी नशा मिल जाता है। इनका अपना नेटवर्क होता है। कोई बड़ा सप्लायर तो कोई खुद का खर्च निकालने के लिए दूसरों को भी नशा बेचने लग जाता है। इन महिलाओं के साथ भी ऐसा ही है। नशा करने वाला ही एक युवक जब इनके घर हेरोइन लेने गया तो पुलिस में मौके पर तीनों महिलाओं सहित इस ग्राहक जसवीर को भी पकड़ा।

यह भी पढ़ें: पालतू कुत्तों के प्यार से मानसिक रोगी हुए चंगे, शोध में सामने आए हैरतअंगेज परिणाम

कैसे बना नशा नेटवर्क

सूत्रों की माने तो नशा करने वाला अलग ही माहौल में रहता है और उसका दायरा भी नशेड़ियों से जुड़ा होता है। एक दूसरे की जरूरत पूरा करने के लिए नशा पीते और बेचते है। पुलिस इन महिलाओं के ग्राहकों की तलाश तो कर ही रही है साथ ही कौन सा बड़ा ड्रग सप्लायर नशे कारोबार चला रहा है इस पर भी कड़ी नजर है।

यह भी पढ़ें: भगवंत मान का कांग्रेस पर तंज, कहा- पिछली सरकार में उसके विधायकों ने 'नकली सीएम' कैप्टन के साथ काम किया

महिला से 33 सौ नशीली गोलियां और पांच किलो चूरा पोस्त मिला

दो दिन पहले ही बुधवार को गुरुहरसहाय की एक महिला के घर से 33 सौ नशीली गोलियां और पांच किलो नशीला चूरा पोस्त भी बरामद हुआ था। पुलिस की रेड में आरोपित महिला फरार हो गई। पुलिस जांच अधिकारी गुरमेज सिंह के मुताबिक कुतबगढ़ भाटा निवासी राणो बाहर के राजस्थान के चुरा पोस्त और नशीली गोलियां लाकर बेचती है। महिला पिछले कुछ सालों के इस धंधे में थी पुलिस को सूत्रों ने बताया तो कार्रवाई की गई। आरोपित महिला की तलाश जारी है।

Edited By: Sunil kumar jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट