संवाद सहयोगी, अबोहर : मिड-डे मील कुक यूनियन की बैठक रविवार को नेहरू पार्क में हुई। इसमें समस्याओं को लेकर विचार-विमर्श किया गया। बलविदर कौर ने बताया कि मिड-डे मील कुकों को साल में केवल 10 महीने का वेतन ही दिया जाता था, जबकि वे जून को छोड़कर बाकी सभी दिन खाना बनाती हैं। उन्हें पहले वेतन भी केवल 1700 रुपये प्रति महीना ही दिया जाता था, जोकि महंगाई के हिसाब से बहुत कम था। बलविदर कौर ने बताया कि इसको लेकर यूनियन लंबे समय से संघर्ष कर रही थी। अब मिड-डे मील कुकों को तीन हजार रुपये मासिक वेतन दिया जाएगा। अब 12 महीने का वेतन मिलने की उम्मीद जगी है। उन्होंने बताया कि यह निर्णय एक अप्रैल से लागू हो जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!