जागरण संवाददाता, फिरोजपुर : देव समाज कॉलेज फार वूमेन में आयोजित एनएसएस कैंप के छठे दिन छात्राओं ने स्वच्छता, एकता और सद्भावना का संदेश दिया। कॉलेज ग्राउंड, मेस और होस्टल की जहां छात्राओं ने खुद सफाई की, वहीं कॉलेज की प्रो. खुशविद्र कौर ने छात्राओं को पुराने कपड़ों के उचित इस्तेमाल करने की डेमो की और बताया कि किस प्रकार से पुराने और फटे कपड़ों को नए चीजें बनाने में इस्तेमाल किया जा रहा था, जैसे थैला, मैट, पोच्छा आदि। इसके अलावा डेकोरेशन करने वाली वस्तुएं भी तैयार की जा सकती हैं। कैंप के छठे दिन आरएसडी कॉलेज के पूर्व प्रिसिपल एके सेठी ने भी विद्यार्थियों की संबोधित किया और नष्ट होने योग्य वस्तुओं के इस्तेमाल के लिए प्रेरित किया।

कॉलेज में एनएसएस विभाग की एनएसएस ऑफिसर सपना बधवार ने बताया क कोई भी कपड़ा बेकार नहीं होता है चाहे कितना भी पुराना क्यों न हो। उन्होंने बताया कि कपड़े कूड़े में फेंके जाने के बाद डंप हो जाते हैं और पर्यावरण को भी प्रभावित करते हैं। इसलिए कपड़ों को दोबारा प्रयोग किया जाए। बधवार ने छात्राओं को आर्थिक रूप से मजबूत होने के गुर सिखाए।

---------

एक साथ खाना खाया और दूसरों को भी खिलाया

कैंप के दौरान दौरान छात्राओं को छठे दिन खुद खाना बनाकर और एक व्यक्ति का अतिरिक्त खाना लाने को कहा गया था। छात्राएं अपने घर से खाना बनाकर लाईं और एक साथ खाया। फिर रिक्शा और ऑटो रिक्शा चालकों को भी खाना बांटा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!