अमनदीप सिंह, फिरोजपुर : फिरोजपुर तहसील गुरुहरसहाय मंडी, राठौरा का मोहल्ला के रहने वाले दो युवकों की मौत के साथ तीन बच्चों के सिर से बाप का साया उठा गया। देर रात जब परिवार के सदस्यों को सड़क हादसे में दोनों की मौत की जानकारी मिली नए साल के जश्न की सारी तैयारियां धरी की धरी रह गई। मृतक बलविद्र सिंह ने अपने दो बच्चों और ड्विंकल शर्मा ने अपने बेटे के साथ घर लौटकर नया साल मनाने का वादा किया था, लेकिन दोनों वादा तोड़कर हमेशा के लिए बच्चों को बीते साल की तरह अलविदा कहकर चले गए।

बलविद्र और ड्विंकल की मौत की खबर सुनते ही दोनों की पत्नियों का रो रोकर बुरा हाल है। दोनों का घर गुरुहरसहाय मंडी राठौरा का मोहल्ला में आसपास है। मौत की खबर के साथ पूरे मोहल्ले में सन्नाटा छा गया। सिविल अस्पताल फिरोजपुर इमरजेंसी के बाहर पहुंचे दोस्तों का कहना था, कि पहले तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ कि बलविद्र और ड्विंकल की सड़क में मौत हो गई। फिर अस्पताल पहुंचने पर यकीन हुआ। हर कोई दोनों के बच्चों के सिर से बाप का साया उठ जाने की चर्चा करता रहा। गुरुहरसहाय के रहने वाले प्रीतम सिंह ने बताया कि बलविद्र उसका भतीजा है। उसके दो बच्चे है। लड़की सुनैना और बेटा सुमित है, उधर, ड्विंकल का एक बेटी हनी है। बच्चे छोटे हैं उन्हें घर में लोगों के रोने से यह बात को समझ तो आ रही है कि पिता अब इस दुनिया में नहीं रहे हैं।

---------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!