जागरण संवाददाता, फिरोजपुर : मेडिकल स्टोर पर काम करते युवक ने गांव में मरीज को बिना डाक्टर की पर्ची दवा देने से इन्कार किया तो परिवार ने तेजधार हथियारों से उस पर जानलेवा हमला कर दिया। इस दौरान बेटे के बचाव में आए पिता के सिर पर भी आरोपितों ने कापे (तेजधार हथियार) से वार किए। हमले में पिता बुरी तरह घायल हो गया, जिसे फरीदकोट के मेडिकल कालेज में रेफर किया गया है, जहां उसकी हालात नाजुक बताई जा रही है। थाना सदर फिरोजपुर ने तीन आरोपितों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। आरोपित गांव से फरार हो गए।

गांव गट्टी राजोके निवासी 23 वर्षीय सर्बजीत सिंह सिविल अस्पताल फिरोजपुर के साथ मेडिकल स्टोर में काम करता है। पीड़ित सर्बजीत ने बताया कि 20 जून की शाम गांव के ही मरीज के लिए परिवारिक सदस्यों ने दवा की मांग तो सर्बजीत ने बिना डाक्टर की पर्ची के दवा देने से इन्कार कर दिया। इसी बात से नाराज आरोपित ओम प्रकाश, प्रकाश सिंह और प्रेम सिंह निवासी गांव गट्टी राजोके ने घर लौट रहे सर्बजीत पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। बेटे पर हमला होता देख पिता गुरनाम सिंह ने बचाव की कोशिश की तो आरोपितों ने उसके सिर पर तेजधार हथियारों से वार किए। बाप बेटे को घायल कर आरोपित फरार हो गए। गुरनाम सिंह फरीदकोट मेडिकल कालेज और सर्बजीत सिविल अस्पताल में उपचाराधीन है।

जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर तरसेम शर्मा ने कहा गुरनाम का इलाज चल रहा है और तीन आरोपितों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। आरोपित जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Edited By: Jagran