संवाद सहयोगी, गुरुहरसहाय (फिरोजपुर) : किसान संघर्ष समिति जोन गुरुहरसहाय के नेतृत्व में किसानों ने शनिवार को गुरुहरसहाय के प्रधान धर्म सिंह सिद्धू के नेतृत्व में केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार के नेताओं के खिलाफ फरीदकोट रोड पर स्थित लाइटों वाले चौक पर पुतला फूंक प्रदर्शन किया।

इस दौरान मंगल सिंह और मेजर सिंह ने बताया कि केंद्र की सरकार किसान-मजदूरों, दुकानदारों और व्यापारियों के साथ धक्का कर रही है और उनके प्रति गलत नीतियों अपना रही है। उन्होंने कहा कि मांगों को लेकर 18 अक्टूबर को फाजिल्का-फिरोजपुर रेल लाइन जाम करेंगे, जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। उन्होंने कहा कि अगर फिर भी सरकार ने मांग न मानी तो संघर्ष तेज किया जाएगा। इस मौके फुम्मन सिंह, गुरमेल सिंह, अंग्रेज सिंह, सुखदेव सिंह, सतनाम सिंह, दरबारा सिंह, स्वर्न सिंह, मदन सिंह, अमर सिंह, सुबेग सिंह, दर्शन सिंह, बोहड़ सिंह आदि उपस्थित थे। किसानों ने फूंके पुतले संस, अबोहर : कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर व बीएसएफ का दायरा 15 किलोमीटर से बढ़ाकर 50 किलोमीटर करने का विरोध करते हुए अबोहर अनाज मंडी में किसानों ने प्रधानमंत्री व गृहमंत्री के पुतले फूंक कर रोष प्रदर्शन किया ।

किसान नेता एडवोकेट इंद्रजीत बजाज के नेतृत्व में किए गए इस रोष प्रदर्शन में किसानों ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार अहंकारी हो गई है जिस कारण वह करीब एक साल से संघर्ष कर रहे किसानों की बात नहीं सुन रही। किसानों ने कहा कि सिघु बॉर्डर पर गत दिवस हुई घटना बहुत निदनीय है, ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की मांगों को जल्दी से जल्दी पूरा करे।

Edited By: Jagran