संवाद सूत्र, फाजिल्का : मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से संघर्ष कर रहे डीसी कार्यालय कर्मचारी यूनियन के सदस्यों ने मिनिस्टीरिटय कर्मचारी यूनियन के साथ मिलकर वीरवार की सामूहिक छुट्टी ली और सुबह पटियाला के लिए रवाना हुए, जबकि दूसरी तरफ कर्मचारियों की छुट्टी के चलते कोर्ट केसों को लेकर सुनवाई आगे बढ़ा दी गई। इसके अलावा सर्टिफिकेट के अलावा अन्य कार्य भी प्रभावित रहे।

इस मौके पीएसएमयू के संरक्षक हरभजन सिंह खुंगर, जिला प्रधान फकीर चंद, महासचिव प्रवीन कुमार आदि ने कहा कि वह लंबे समय से पंजाब सरकार के खिलाफ संघर्ष करने को मजबूर थे। लेकिन सरकार उनकी मांगों पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रही थी, जिसके चलते पटियाला में होने वाली महारैली में भाग लेने का फैसला लिया गया। वहीं डीसी कार्यालय कर्मचारी भी सामूहिक छुट्टी लेकर पटियाला रैली में भाग लेने के लिए गए। इसके अलावा पंजाब स्टेट कर्मचारी दल यूनियन जिला इकाई फाजिल्का के सदस्य भी इस महारैली में शामिल होने के लिए रवाना हुए। जिला प्रधान ओम प्रकाश जलंधरा व जिला महासचिव भीम सैन ने कहा कि वह भी विभिन्न मांगों को लेकर पटियाला में शामिल होने के लिए रवाना हुए हैं। उनकी मुख्य मांगों में छठे वेतन कमिशन की जारी की नोटीफिकेशन में संशोधन करके 2.25 और 2.59फीसद का विस्तार रद्द किया जाए और 3.01 फीसद के वृद्धि के साथ सभी कर्मचारियों व अधिकारियों के साथ एक ही फार्मूला लागू किया जाए, सेंटर पैटर्न पर छठे वेतन आयोग की पूरी महंगाई भत्ते की किस्तों का तुरंत नोटीफिकेशन जारी किया जाए, काटे हुए भत्ते दुगने किए जाएं कच्चे कर्मचारी पक्के किए जाएं, महंगाई भत्ते की रोकी हुई पैंडिग किस्तें बकाए समेत बहाल की जाएं शामिल हैं। उधर कर्मचारियों के छुट्टी पर जाने के चलते तहसील परिसर दोपहर बाद ही सूना हो गया, जबकि रजिस्ट्ररी करने वाले अधिकारी के छुट्टी पर होने के चलते रजिस्ट्रियां भी नहीं हो पाई।

Edited By: Jagran