फिरोजपुर [अमनदीप सिंह]। फिरोजपुर में एक सप्ताह पहले लगातार चार रातों तक Drone दिखने का मामला केंद्र सरकार तक पहुंच चुका है। BSF के उच्चाधिकारियों की तरफ से आधुनिक ड्रोन भेदी प्रणाली (Drone piercing system) की मांग की गई, ताकि फिरोजपुर या पंजाब की अन्य सरहदी हदों में रात के समय पाकिस्तान से भेजे जाने वाले Drone's को पकड़ा जा सके या उन्हें रोका जा सके। इसके लिए BSF ने खुद को और सक्षम बनाने के लिए सरकार और रक्षा मंत्रालय से मंजूरी मांगी है, जिसके बाद रात के समय सरहदी इलाकों में घूमने वाले Drone's आदि पर कड़ी नजर रखी जा सके।

फिरोजपुर की सीमा सुरक्षा बल की तरफ से एप्रूूवल मिलने का इंतजार किया जा रहा है। एप्रूवल मिलते उच्च स्तर के उपकरणों की खरीदारी की जाएगी। सीमा सुरक्षा बल की इस तरह की तैयारी को देखते हुए यह कह सकते हैं कि अब पाकिस्तान की ओर से भेजे जाने वाले Drone's की खैर नहीं होगी।

BSF के अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में सीमा सुरक्षा बल के उच्चाधिकारियों ने आधुनिक Drone भेद प्रणाली की बात केंद्र सरकार और रक्षा मंत्रालय के समक्ष रखी है, जो कि प्रक्रिया में है। पाकिस्तान की तरफ से Drone के माध्यम से हथियारों और हेरोइन सहित अन्य मादक पदार्थों की तस्करी को गंभीरता से लिया जा रहा है, क्योंकि यह देश की सुरक्षा पर बहुत बड़ा सवाल है।

पाकिस्तान के नापाक इरादों को नाकाम करनेे के लिए ही सीमा सुरक्षा बल ने आधुनिक Drone भेद प्रणाली की मांग की है। फिरोजपुर में अब तक BSF के पास रात के अंधेरे में Drone आदि को पकड़ पाना या रोक पाने के लिए उचित संसाधन या उपकरण नहीं है। सरहदी इलाका होने के कारण Drone's की तय दूरी को लेकर भी असमंजस बना रहा है। हालांकि BSF की तरफ से कड़े प्रयास करके फिरोजपुर के गांव हजारा सिंह वाला, टेंडीवाला और चांदीवाला में फायरिंग करके भी Drone's को गिराने के प्रयास किए जा चुके हैं, लेकिन सफलता नहीं मिली।

केंद्र सरकार की तरफ से सीमा सुरक्षा बल को उच्च कोटि के आधुनिक Drone भेद प्रणाली के उपकरण मुहैया करवाए जाते हैंं तो पाकिस्तान से भेजे जाने वाले Drone's का आसानी से पता लगाया जा सकता है और उन्हें पकड़ा भी जा सकता है। उम्मीद है कि जल्द ही BSF ऐसे उपकरणों से लैस होगी और खरीदारी की प्रक्रिया जल्द पूरी कर ली जाएगी। इसके बाद BSF पाकिस्तान की ऐसी हरकतों पर पैनी नजर रख सकती है।

सर्च आपरेशन भी किए, नहीं लगा कुछ हाथ

फिरोजपुर के गांव हजारा सिंह वाला, चांदीवाला और टेंडीवाला के आसपास सरहदी इलाकों में 7 अक्टूबर से लेकर 10 अक्टूबर तक रोजाना रात के समय Drone देखे गए थे, जिसके बाद ग्रामीणों ने BSF को बताया तो लगातार 7 अक्टूबर से 10 अक्टूबर जब-जब सूचना मिली, BSF रात एक बजे से लेकर अगले दिनों तक पंजाब पुलिस के साथ सर्च आपरेशन करती रही, लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा।

फिरोजपुर के गांवों में कब-कब दिखे Drone

  •  7 अक्टूबर की रात 10:30 बजे
  •  8 अक्टूबर की रात 8:40 बजे
  •  9 अक्टूबर की रात 7:30 बजे
  • 10 अक्टूबर की रात 8:00 बजे

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!