संवाद सूत्र, जीरा (फिरोजपुर) : फिरोजपुर से वीरवार रात कार में सवार हो जीरा जा रहे पंजाब पुलिस के कांस्टेबल की गांव खोसादल सिंह वाला के पास तेज रफ्तार ट्राले की टक्कर से मौत हो गई। मृतक पुलिस लाइन फिरोजपुर छावनी में तैनात था। हादसा इतना दर्दनाक था कि दोनों वाहन भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए।

वहीं हादसे के बाद ट्राला छोड़कर चालक मौके से फरार हो गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज अज्ञात ट्राला चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

जीरा के गांव मल्लूबानिया में रहने वाले मृतक जसविंदर सिंह का पिता भी पुलिस विभाग में मुलाजिम था और कुछ साल पहले उनकी मौत के बाद उनकी जगह पर जसविंदर को नौकरी मिली थी। थाना मल्लांवाला पुलिस ने हादसे की जांच शुरू कर दी है। जसविंदर सिंह के गांव निवासी गुरमुख सिंह संधू मल्लूबानिया ने बताया कि जसविंदर की मौत के बाद गांव में शोक की लहर है क्योंकि थोड़े समय दौरान परिवार को दोहरा सदमा लगा है। उन्होने बताया की रात आठ बजे जसविदर ने फिरोजपुर से चलने हुए अपने वाट्सएप पर घर आने का स्टेटस डाला था, परंतु रास्ते में वह दुर्घटना का शिकार हो गया। उधर थाना मल्लांवाला पुलिस ने जसविदर के शव को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल में रकवा व ट्राले को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

नहर के मोघे से छेड़छाड़ करने वालों पर केस संस, अबोहर : थाना खुइयां सरवर पुलिस ने नहरी विभाग के एसडीओ रमनदीप सिंह सिद्धू की शिकायत पर दौलतपुरा माइनर में मोघे से छेडछाड़ करने व सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने आरोप में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। गौरतलब है कि किसानों ने नहरी विभाग को शिकायत दी थी कि कुछ लोग मोघे को अपनी मर्जी से उंचा नीचा करते है, जिससे दूसरे किसानों को नुकसान उठाना पड़ता है। वहीं भारतीय किसान यूनियन राजेवाल द्वारा आरोपितों के खिलाफ कारवाई की मांग को लेकर शुक्रवार के को श्रींगगानगर मार्ग पर धरना भी लगाया गया है।

Edited By: Jagran