संस, अबोहर : सराभा नगर में रविवार को बिजली के बकाया बिल माफी के फार्म भरने के लिए विशेष कैंप लगाया गया। सरपंच सुखपाल सिंह सेखों की अगुवाई में लगए गए इस कैंप में करीब 150 से अधिक लोगों के फार्म भरे गए।

सरपंच ने बताया कि पंजाब सरकार की तरफ से दो किलो वाट लोड वाले उपभोक्ताओं के बकाया बिजली के बिल माफ कर लोगें को बहुत बड़ी राहत प्रदान की है। उन्होंने कहा कि लोगों को इसके लिए चक्कर न काटने पड़े इसके लिए इस तरह के कैंप लगाकर फार्म भरे जा रहे है ताकि किसी को कोई परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि बिल न भरने की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था लेकिन पंजाब सरकार ने लोगों की इस समस्या को हल कर दिया।

बिल माफी को लेकर झूठी वाहोवाही लूट रहे कांग्रेसी : नारंग संस, अबोहर : राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी द्वारा दो किलोवाट से कम के बिजली उपभोक्ताओं के पुराने बकाया बिलों को माफ करने की घोषणा के बाद अबोहर में कांग्रेसी नेता इसका झूठा श्रेय लेने की होड़ में लगे हैं। यह आरोप भाजपा विधायक अरूण नारंग ने कांग्रेस पार्षदों द्वारा अपने घरों में उपभोक्ताओं को बुलाकर उनके फार्म भरने पर कड़ा रोष जताते हुए कही।

विधायक नारंग ने कहा कि बेशक चरणजीत चन्नी ने आगामी चुनावों का फायदा लेने के लिए राज्य के सभी दो किलोवाट के कम के उपभोक्ताओं के पिछले सभी बिजली बिल माफ करने की घोषणा की ह, लेकिन इस घोषणा के बाद अबोहर में सतापक्ष के नेता इसका खूब लाभ उठा रहे हैं, क्योंकि बिजली माफी संबंधी जो फार्म भरे जा रहे हैं। उन पर सुनील जाखड़ व संदीप जाखड़ की फोटो प्रकाशित की गई है, जबकि इनके पास कांग्रेस सरकार की किसी प्रकार की जिम्मेवारी नहीं है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेसी पार्षदों के घरों पर यह फार्म उपभोक्ताओं से भरवाकर झूठी वाहवाही लूटी जा रही है। उन्होंने कहा कि बिजली विभाग का पूरा अमला अब आनलाइन है और उनको सभी पता है कि किन उपभोक्ताओं के घरों या प्रतिष्ठानों में 2 किलोवाट से कम के कुनेक्शन हैं। ऐसे में विभाग चाहे तो सीधे ही इन उपभोक्ताओं के खातों की बकाया राशि क्लीयर कर सकता है। उसके लिए फार्म भरने की इस झूठी प्रक्रिया की क्या जरूरत है।

Edited By: Jagran