अमृत सचदेवा, फाजिल्का : राज्य के 22वें जिले फाजिल्का की शुक्रवार को पहली वर्षगांठ मनाई गई। इस मौके राज्य के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने इस सरहदी जिले को 64 करोड़ रुपये के प्रोजेक्टों का तोहफा दिया। इसके अलावा उप मुख्यमंत्री द्वारा जलालाबाद के लिए जरूरी दो पुलों, एक स्कूल की इमारत और एक स्टेडियम लोगों को समर्पित करने के साथ जलालाबाद हलके ने सरहदी क्षेत्र से चंडीगढ़ बनने की दिशा में पहली छलांग लगा दी है।

उप मुख्यमंत्री ने जलालाबाद में लड़कियों के सरकारी स्कूल को लोकार्पित करने से लेकर फाजिल्का में 37 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले जिला प्रबंधकीय परिसर का नींव पत्थर रखा। साथ ही उन्होंने 59 लाख रुपये खर्च करके बनी फर्द केंद्र, पटवार केंद्र और गांव थेह कलंदर में 3.15 करोड़ रुपये की लागत से तैयार 66 केवी पावर ग्रिड को लोकार्पित किया। वहीं, मंडी लाधूका में दो करोड़ रुपये की लागत से सेम नाले पर बने पुल को भी लोकार्पित किया। इससे पहले उन्होंने जलालाबाद में 9.81 करोड़ की लागत से बने लड़कियों के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की इमारत का लोकार्पण कर सात करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले खेल स्टेडियम का शिलान्यास किया। उन्होंने जलालाबाद में 100 बिस्तर वाले अस्पताल को बनवाने की घोषणा भी की। इस अस्पताल पर 22 करोड़ रुपये खर्च आएंगे। इस मौके अपने संबोधन में उप मुख्यमंत्री ने राज्य के नए बने जिलों में विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा विकसित करने की अकाली-भाजपा सरकार की वचनबद्धता भी दोहराई। उन्होंने कहा कि सरहदी क्षेत्र में होने के चलते जिला फाजिल्का हमेशा सरकार के एजेंडे में सबसे ऊपर रहेगा। राज्य सरकार लगातार केंद्र की कांग्रेस की अगवाई वाली यूपीए सरकार से सरहदी जिले के लोगों का जीवन स्तर ऊंचा उठाने और युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा करने की मांग करती रही है लेकिन अफसोस है कि केंद्र सरकार ने अभी तक यह मांग परवान नहीं की है। राज्य सरकार ही अपने सीमित संसाधनों से सरहदी क्षेत्र के सभी हलकों के सर्वपक्षीय विकास के लिए विशेष पैकेज देगी। इस मौके पर उनके साथ वन मंत्री सुरजीत ज्याणी, सांसद शेर सिंह घुबाया, भाजपा सांसद नवजोत सिंह सिद्धू, भाजपा प्रांतीय अध्यक्ष अश्विनी शर्मा, बल्लूआना के विधायक गुरतेज सिंह घुड़ियाना, यूथ अकाली दल के जिलाध्यक्ष संजीव गोदारा, योजना बोर्ड के चेयरमैन प्रेम वलेचा, मुख्यमंत्री के सलाहकार कमल शर्मा, डीसी डा. बसंत गर्ग, एसएसपी गुरिंदर सिंह ढिल्लो, सरपंच निर्भय सिंह, एडवोकेट गुरप्रीत सिंह संधू व अन्य अकाली-भाजपा नेता मौजूद थे।

----

बाक्स के लिए प्रस्तावित

-----------

सूखे से निपटने के लिए केंद्र दे आठ सौ करोड़ रुपये

फाजिल्का: उप मुख्यमंत्री बादल ने कहा कि पंजाब के सूखा प्रभावित इलाकों के लिए केंद्र सरकार से आठ सौ करोड़ रुपये और एक हजार मेगावाट से अधिक बिजली की मांग की गई है। इस मांग को लेकर मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने खुद केंद्रीय मंत्रियो से बात की है। उन्होंने कहा कि राज्य के मेहनतकश किसान अपने सीमित वित्तीय संसाधनों में से डीजल के पैसे खर्च कर अपनी धान की फसल को बचा रहे हैं ताकि देश की अनाज की निर्भरता को कायम रखा जा सके।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर