संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : पिछले कुछ दिनों से केंद्रीय जेल से हवालातियो व गैंगस्टरों से लगातार मोबाइल फोन मिल रहे हैं। यह एक चिता का विषय है। क्योंकि एक तो विधानसभा के चुनाव नजदीक हैं और ऊपर से गणतंत्र दिवस भी नजदीक है। जेल में बंद गैंगस्टरों से इस प्रकार मोबाइल व नशा मिलना कहीं किसी बडे़ खतरे की ओर इशारा तो नहीं कर रहा है।

फिरोजपुर की केंद्रीय जेल में जेल अधिकारियों व कर्मचारियों ने सूचना के अधार पर तलाशी के दौरान 11 मोबाइल फोन बरामद किए हैं। इस बाबत पुलिस ने थाना सिटी फिरोजपुर में अज्ञात व गैंगस्टर हवालातियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। एएसआइ कुलदीप सिंह ने बताया कि पुलिस को दिए बयान में रिशव पाल गोयल सहायक सुपरिंटेंडेंट केंद्रीय जेल फिरोजपुर ने बताया कि बीते दिन उन्होंने साथी कर्मचारियों के साथ सूचना के अधार पर पुरानी बैरक नंबर आठ की तलाशी ली तो मोबाइल फोन मार्का रैडमी, सिम कार्ड, एक मोबाइल फोन रीयल मी, जिसकी सिम ट्रे मिसिग है, लावारिस पड़े बरामद हुए। इसके बाद एक मोबाइल फोन मार्का वीवो, सिम कार्ड, एक मोबाइल फोन मार्का सैमसंग समेत बैटरी, सिम कार्ड बैरक में बने शौचालय से बरामद हुए। इसके बाद पुरानी बैरक नंबर 12 की तलाशी के दौरान एक मोबाइल फोन रैडमी समेत सिम कार्ड बैरक के बाहर बने भट्ठी के पास से बरामद हुआ और एक मोबाइल फोन मार्का ओपो समेत सिम व 1 मोबाइल फोन मार्का नौकिया समेत बैटरी जमीन के नीचे दबा हुआ बरामद किया।

इसी तरह एएसआइ कुलदीप सिंह ने बताया कि सूचना के आधार पर हाई सुरक्षा जोन के अहाता नंबर चार की चक्की नंबर चार में मौजूद गैंगस्टर हवालाती सुखचैन सिंह से रोशनदान में छुपाकर रखे दो मोबाइल फोन मिले और एक मोबाइल फोन बिना सिम, दो सैमसंग ईयर फोन, दो चार्जर अडाप्टर, दो डाटा केबल बरामद हुए। इसके बाद अहाता नंबर दो की चक्की नंबर तीन में गैंगस्टर रजनीश कुमार उर्फ प्रीत से तलाशी के दौरान एक मोबाइल फोन रैडमी समेत सिम कार्ड बरामद किया गया है। मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने उक्त मामले में आरोपितों पर मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran