अमृत सचदेवा, फाजिल्का

बच्चों के लिए ट्रस्ट को दान दी गई जमीन इंप्रूवमेंट ट्रस्ट द्वारा अधिग्रहित करके बेचने के प्रयासों को जनता की भावनाओं के विपरीत कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। यह कहना है स्थानीय विधायक एवं कैबिनेट मंत्री सुरजीत ज्याणी का। ज्याणी इंप्रूवमेंट ट्रस्ट द्वारा सेठ मुंशीराम चैरीटेबल ट्रस्ट की जमीन खाली बताकर कालोनी के रूप में काटकर बेचने के खिलाफ उठ रहे विरोधी स्वरों बारे बात कर रहे थे।

ज्याणी ने कहा कि अगर शहर के लोग उक्त जगह मुनाफे के लिए बेचे जाने का विरोध कर रहे हैं, तो उनकी भावनाओं का सम्मान किया जाएगा। वहीं उक्त जगह के अधिग्रहण के खिलाफ नगर सुधार ट्रस्ट द्वारा मांगे गए एतराजों की शुरुआत भी हो गई है। ग्रेजुएट्स वेलफेयर एसोसिएशन फाजिल्का के सचिव इंजीनियर नवदीप असीजा ने कानूनन उक्त जगह का अधिग्रहण न होने बारे एतराज नगर सुधार ट्रस्ट को डाक के जरिए भेजे हैं। वहीं, अपनी जगह को अधिग्रहित करने से हैरान इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने भी सोमवार रात को बैठक बुलाई है।

---

पर्यटन विभाग के प्रोजेक्ट में है ट्रस्ट की जगह

फाजिल्का : एक सरकारी एजेंसी के प्रोजेक्ट में शामिल जगह पर दूसरी सरकारी एजेंसी कोई हस्तक्षेप नहीं कर सकती। कालेज ट्रस्ट की उक्त 16.38 एकड़ भूमि, जिस पर पहले पंजाब पर्यटन विभाग एक योजना के तहत काम कर रहा है। इसलिए नगर सुधार ट्रस्ट उक्त जगह पर कालोनी काटने का प्रोजेक्ट नहीं अपना सकता। इंजीनियर नवदीप असीजा ने बताया कि साल 2007 में उक्त जगह पर बनी एतिहासिक इमारत रघुवर भवन व डीसी डा. बसंत गर्ग के आवास को पर्यटन के लिए विकसित करने के उद्देश्य से पर्यटन विभाग संरक्षित कर रहा है। अब इंप्रूवमेंट ट्रस्ट द्वारा उक्त जगह बेचकर मुनाफा कमाने की शिकायत ई-मेल के जरिए पर्यटन विभाग से की गई है। इस पर पर्यटन विभाग की प्रिंसिपल सेक्रेट्री गीतिका कल्ला ने जल्द ही टीम भेजने का आश्वासन दिया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर