संवाद सूत्र, फाजिल्का : राधा स्वामी कालोनी में रहने वाले एक युवक ने होटल खाली करवाए जाने से परेशान होकर गंग कैनाल में कूदकर आत्महत्या कर ली। थाना खुईखेड़ा पुलिस ने शव को फाजिल्का के सरकारी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया।

पुलिस को दी शिकायत में फाजिल्का निवासी सचिन कुमार ने बताया कि उसका भाई अंकुश मोहाली के एक होटल में रहता था। इस दौरान उसने होटल संचालक प्रताप से किराये पर होटल लिया हुआ था, जिसका एक महीने का किराया 75 हजार रुपए था। अंकुश समय पर अपना किराया अदा कर देता था। कुछ दिन पहले परिवार में किसी सदस्य की बरसी के चलते वह फाजिल्का में आया और काफी परेशान था। पूछने पर उसने बताया कि 10-20 दिन से होटल मालिक व उसका एक दोस्त उसको होटल खाली करवाने के लिए दबाव डाल रहे थे, जिसके बाद मंगलवार को वह अचानक घर से कहीं चल गया। अंकुश ने 14 सितंबर को गंग कैनाल बोदीवाला में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। उधर, मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने बताया कि पुलिस होटल संचालक प्रताप सहित एक अज्ञात व्यक्ति पर मामला दर्ज किया है।

सरपंच से किया गाली-गलौच, सरकारी काम में डाली रुकावट संवाद सहयोगी, जीरा (फिरोजपुर) : थाना जीरा की पुलिस ने गांव चब्बा के सरपंच के साथ गाली-गलौच कर सरकरी काम में रुकावट डालने के आरोप में एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

सब इंस्पेक्टर कुलविदर सिंह ने बताया कि पुलिस को दिए बयान में बलदेव सिंह निवासी गांव बहक गुजरां ने बताया कि उसकी दुकान के आगे गली बन रही है और उसका लेवल करने के लिए पंचायत की तरफ से दुकान के आगे मिट्टी डाली जा रही थी। इस दौरान आरोपित बलजीत सिंह निवासी गांव चब्बा समझता था कि वह जानबूझकर दुकान के आगे मिट्टी डलवा रहा है, जिसकी रंजिश को लेकर बुधवार को आरोपित बलजीत सिंह ने गांव के सरपंच प्रगट सिंह के साथ खींच-तान करते हुए गाली-गलौच किया और सरकारी काम में रुकावट पैदा की। इसके अलावा आरोपित ने सरपंच को मारने की धमकियां भी दी। पुलिस ने आरोपित पर मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran