संवाद सूत्र, खुईखेड़ा (फाजिल्का) : जिले के गांव खुईखेड़ा में पर्याप्त मात्रा में बिजली ना मिलने पर ग्रामीणों ने शनिवार को फाजिल्का-अबोहर हाईवे पर धरना देते हुए जाम लगा दिया। इस दौरान किसानों ने फसलों के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी न देने पर बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

धरने पर बैठे गांव निवासी हरबंस सिंह, जोसा सिंह व जश्न सिंह ने बताया कि सरकार की ओर से दावे किए जा रहे हैं कि खेतों को पानी लगाने के लिए पर्याप्त मात्रा में बिजली दी जा रही है, लेकिन खुईखेड़ा में तो ग्रामीण क्षेत्रों में कट लगाकर लोगों की परेशानी तो बढ़ाई ही जा रही है, जबकि उन्हें भी फसलों के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल रहा, जिस कारण तेज धूप के चलते उनकी फसलें सूखने लगी हैं। हाईवे पर जाम के कारण हाईवे से गुजरने वाले लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा, जबकि पुलिस द्वारा रूट डायवर्ट करक वाहन चालकों को वहां से भेजा गया।

उधर, सूचना मिलते ही फाजिल्का के डीएसपी जसवीर सिंह पन्नू, बिजली विभाग के एक्सईएन रंजन, एसडीओ यामिनी धरना स्थल पर पहुंची और किसानों की बातचीत सुनी। उन्होंने कहा कि राज्य में बिजली संकट गहराने के कारण यह समस्या पैदा आई है, जैसे ही बिजली की सप्लाई सुचारू रूप से चलेगी तो उन्हें किसी भी तरह की परेशानी आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पिछले से कोई फाल्ट आ जाने के कारण लाइट बंद थी, जिसे जल्द चालू करवा दिया जाएगा, जिसके बाद ग्रामीणों ने धरना समाप्त कर दिया।

बिजली घर में नहीं मिला कोई अधिकारी तो शुरू किया प्रदर्शन

ग्रामीणों ने बताया कि बिजली की समस्या संबंधी बिजली विभाग के अधिकारियों से बातचीत करने का प्रयास किया, लेकिन बिजली घर में कोई भी अधिकारी ना होने के चलते किसानों ने हाईवे पर धरना लगा दिया, जोकि करीब डेढ घंटे तक चला।

Edited By: Jagran