संवाद सूत्र, जलालाबाद : दी रेवेन्यू पटवार यूनियन पंजाब के निर्देशों अनुसार पुलिस विभाग व विजिलैंस की धक्केशाही के खिलाफ जलालाबाद के समूह पटवारियों व कानूनगो ने काले बिल्ले लगाकर पंजाब सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया और कार्यालयों का मुकम्मल तौर पर कार्य बंद रखा गया। इसके बाद पटवार यूनियन द्वारा एसडीएम जलालाबाद को मांग पत्र भी सौंपा गया।

यूनियन नेताओं ने बताया कि दी रेवेन्यू पटवार यूनियन के फैसले मुताबिक छह व सात मई को तहसील स्तरीय रोष धरने के बजाय समूह पटवारी रोष स्वरूप समूहिक छुट्टी पर रहेंगे। दी रेवेन्यू पटवार यूनियन व कानूनगो एसोसिएशन सदस्यों ने कहा कि अगर जल्द उनकी मांगें पूरी न हुई तो रेवेन्यू पटवार यूनियन भी माल अफसर एसोसिएशन के संघर्ष में शामिल होने के लिए मजबूर हो जाएगी।

आज व कल पटवारी सामूहिक छुट्टी लेकर जताएंगे रोष संवाद सहयोगी, अबोहर: पटवार यूनियन ने बुधवार को अपनी मांगों को लेकर काले बिल्ले लगाकर कोरोना नियमों का पालन करते पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और अपनी मांगों संबंधी तहसीलदार जसपाल सिंह बराड़ को मांगपत्र सौंपा।

पटवार यूनियन के अध्यक्ष पटवारी प्यारा सिंह ने बताया कि प्रदेश में पटवारियों के 4716 पद हैं, जिनके अधीन 1995 पटवारी काम कर रहे हैं और 2721 पद अभी भी रिक्त पडे हैं, जिस कारण प्रत्येक पटवारी द्वारा अपने पटवार सर्कल के अलावा अन्य कई-कई अतिरिक्त सर्कलों का काम बिना किसी मेहनताने से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मौजूदा महामारी के दौर में सरकार के राहत कार्य लोगों तक पहुंचाने और मृतकों के संस्कार भी पटवारियों द्वारा किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया उनकी मांगों में पे-अनामली दूर करना, 18 महीनों की ट्रेनिग को सेवा काल में शामिल करके ट्रेनिग के दौरान बेसिक पे देना, पटवारियों का परख काल समय तीन साल की बजाय दो साल करना, टैक्निकल ग्रेड देनें, डाटा एंटरी का काम पटवारियों के सुपुर्द करने, कार्यालय, स्टेश्नरी और बस्ता भत्ता बढ़ाने, 2004 के बाद भर्ती पटवारियों के लिए पुरानी पैंशन स्कीम लागू करने, सात पटवार सर्कलों के पीछे 1 फील्ड कानूगो का पद की रचना करने, पटवारियों को वर्क स्टेशन, बिजली, पानी, चौकीदार की सुविधा देने, महंगाई भत्ते की अदायगी और 6वें पे-कमिशन की रिपोर्ट लागू करना शामिल हैं। उन्होंने बताया कि यूनियन द्वारा पहले फैसले अनुसार छह मई और सात मई के तहसील स्तरीय रोष धरने की बजाय समूह पटवारी रोष स्वरूप इन तिथियों को सामूहिक छुट्टी लेंगे और कोई भी पटवारी कार्यालय नहीं खोलेगा। इस मौके पर महासचिव कुलदीप सिंह, राधा कृष्ण, मनिद्र सिंह, जिला कानूनगो यूनियन के प्रधान चंद्र कुमार, प्रेम कुमार, जसपाल सिंह मौजूद थे।