संवाद सूत्र, फाजिल्का : पांच साल बाद हमें एक बार फिर से अपनी मनचाही सरकार चुनने का मौका मिला है। ऐसे में समाज के मुख्य वर्ग वकीलों का कहना है कि मतदान के दौरान एक-एक वोट की कीमत होती है। इसलिए हम सभी को अपने मताधिकार का उपयोग कर ऐसे प्रतिनिधि को चुनना चाहिए, जो बिना किसी भेदभाव के क्षेत्र का विकास कर इसके लिए हमारा मतदान करना बहुत जरूरी है। सभी लोग अपने अधिकार को पहचानें और चुनाव के दौरान बिना किसी हिचक के अवश्य मतदान करें। बिना किसी लालच व खौफ वोट का पालन करना आप का मौलिक अधिकार है। मतदान से चुन सकते हैं मनपसंद सरकार

लोकतंत्र के पर्व में वोट ही एक ऐसा अधिकार है, जिससे हम अपनी मनचाही सरकार चुनने में मदद कर सकते हैं। लोगों को बिना किसी भय व लालच के वोट का इस्तेमाल करना चाहिए। ताकि वह ऐसे नेता को चुन सके जो जनहित में नीतियों का निर्माण करके उन्हें जल्द लागू करवाकर अपना दायित्व पूरा कर सकें। वोट का प्रयोग करते समय प्रत्याशी और पार्टी को अच्छी तरह से समझना जरूरी है। क्योंकि यह हमारे राज्य और समाज के भविष्य का मामला है।

--सरिद्र मक्कड़, एडवोकेट वोट की अहमियत को समझें लोग

पंजाब विधानसभा के चुनाव आ गए हैं। बिना किसी लालच व खौफ वोट का पालन करना आप का मौलिक अधिकार है। इसी अधिकार के लिए हमारे देश को बड़ी कुर्बानी देनी पड़ी है। अकसर ही देखने को मिलता है कि लोग वोट की अहमियत को ज्यादा तरजीह ना देते हुए इसका इस्तेमाल नहीं करते। लेकिन यह सही नहीं है। लोकतंत्र के मंच पर उन्हें अपनी भागेदारी देने का मौका मिला है। ऐसे में हमें इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहिए।

--विनय मिड्डा, एडवोकेट सोच-समझकर करें मतदान

चुनाव जीतने वाले उम्मीदवार नई सरकार का हिस्सा होते हैं और उन्हें लोगों की भलाई के लिए काम करना होता है। उन्हें सरकार और जनता के बीच एक गहन रिश्ता बनाए रखने के लिए एक मजबूत सेतु का काम करना चाहिए। ताकि लोग का सरकार के प्रति विश्वास बढ़ सके। हर एक वोटर इसे फर्ज समझकर वोट करेगा, तो इसका लाभ उन्हें कहीं ना कहीं अच्छी सरकार के रूप में मिलेगा।

--संजीव मक्कड़, एडवोकेट देश की तरक्की के लिए करें वोट

राज्य की तरक्की और प्रगति के मद्देनजर विधानसभा चुनाव की बहुत अहमियत होती है। ऐसे में सभी का फर्ज बनता है कि वह वोट के हक का इस्तेमाल जरूर करें। उम्मीदवार ऐसा होना चाहिए जो जनता का भविष्य संवारने में यकीन रखता हो। सरकार बनते ही वह जरूरतमंद लोगों और विकास की योजनाओं को जल्द बनाकर लागू करवाए। बुजुर्ग, बच्चों व महिला सशक्तिकरण के कामों को पहले दे।

--इंद्रजीत बजाज, एडवोकेट

Edited By: Jagran