राज नरूला, अबोहर : बल्लुआना विधानसभा क्षेत्र आरक्षित से कांग्रेस पार्टी ने इस बार महिला उम्मीदवार राजिदर कौर पर दांव खेला है।

राजिदर कौर पेशे से सरकारी सीसे स्कूल खुइयां सरवर में लेक्चरर है व एमए बीएड हैं। वह पिछले लंबे समय से कांग्रेस पार्टी से जुड़ी हुई है। वह पिछली बार भी टिकट हासिल करना चाहती थी। पिछली बार कांग्रेस ने यहां से मलोट के नत्थू राम को उम्मीदवार बनाया था, जो विजयी होकर विधानसभा पहुंचे लेकिन इस बार पार्टी ने उनका टिकट काट दिया। राजिदर कौर पहली बार चुनाव मैदान में कूदी हैं। इतना ही नहीं वह बल्लुआना से चुनाव मैदान में उतरने वाली पहली महिला ही है। यहां से अब तक छह बार कांग्रेस तो तीन बार शिअद जीता है। पहले यहां मुकाबला सीधा कांग्रेस व शिअद हुआ करता था लेकिन इस बार यहां मुकाबला पांच तरफा होने की संभावना है। शिअद ने यहां से हरदेव सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है, जबकि आम आदमी पार्टी की तरफ से अमनदीप सिंह गोल्डी मुसाफिर को चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा ने यहां से अभी तक अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है।

वैसे भाजपा की तरफ से पूर्व विधायक गुरतेज सिंह घुडियाना व वंदना का नाम टिकट की रेस में है। किसान समाज मोर्चा भी अपना उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतार सकता है जिससे मुकाबला काफी रोचक होने की संभावना है। एख लाख 83 हजार 94 वोटर

बल्लुआना विधानसभा क्षेत्र में 1 लाख 83 हजार 94 वोटर है जिनमें से 98 हजार 482 पुरुष व 84 हजार 610 महिला वोटर है। विधायक नत्थूराम ने पार्टी पर लगाया विश्वासघाता का आरोप

पिछली बार बल्लुआना से नत्थू राम विधायक चुने गए थे। उन्होंने यहां से शिअद उम्मीदवार प्रकाश सिंह भट्टी को हराया था। विधायक नत्थू राम पर आरोप है कि वह पांच साल अपने हलके के लोगों से दूर ही रहे, जिस कारण उनका विरोध देखने को मिल रहा था। हालांकि विधायक नत्थू राम का कहना है कि पार्टी ने उन्हें टिकट देने का भरोसा दिया था परंतु पार्टी ने उनके साथ विश्वासघात किया है। मजबूत पक्ष

राजिदर कौर पढ़ी लिखी उम्मीदवार है। कांग्रेस पार्टी के वोट बैंक का फायदा मिलेगा।

कमजोर कड़ी

पहली बार चुनाव लड़ रही है, जिससे उन्हें चुनाव लड़ने का तुजुर्बा नहीं है। इसके अलावा सतापक्ष के कारण एंटी वोट का नुकसान होगा। कांग्रेस द्वारा जो वादे किए गए है उनमें से अनेक वादे पूरे नहीं हुए दूसरा पिछली बार लोगों ने कांग्रेस का उम्मीदवार जताया था लेकिन उनके कार्य से संतुष्ट नहीं।

---

Edited By: Jagran