संवाद सूत्र, फाजिल्का : दुख निवारण श्री बाला जी धाम फाजिल्का में नवरात्र के उपलक्ष्य में चल रहे कार्यक्रम का समापन वीरवार को संकीर्तन के साथ हुआ। इस उपलक्ष्य में मंदिर में रंग बिरंगी लाइटं व गुब्बारों के साथ सजाया गया। मंदिर में नवमी पर मां सिद्धिदात्री का पूजन किया गया। इस मौके डा. रमेश गुप्ता, डा. रंजना गुप्ता, सुरिद्र धूड़िया, शशि धूड़िया परिवार सहित मुख्य मेहमान के रूप में शामिल हुए व पूजन किया, जबकि विजय गिरधर परिवार द्वारा पाठ करवाए गए।

मंदिर कमेटी के प्रधान महावीर प्रसाद मोदी व महासचिव नरेश जुनेजा ने बताया कि सात अक्टूबर से मंदिर में नवरात्र पर्व का आयोजन किया गया। इस दौरान रोजाना शाम साढ़े तीन बजे से साढ़े छह बजे तक 71 राम चरित मानस के सामूहिक नव्वाह पारायण पाठ किए गए। 14 अक्टूबर पर नवमी पर सुबह पाठ किए गए, जिसके बाद दस बजे से लेकर साढ़े 11 बजे तक संकीर्तन कार्यकम का आयोजन किया गया। इस दौरान श्री सुंदरकांड महिला सत्संग मंडल की सदस्यों ने भजनों के माध्यम से सभी को झूमने पर मजबूर किया। इसके उपरांत सभी श्रद्धालुओं द्वारा राम चरित मानस के पाठ व मां की पावन आरती उतारी गई। इस दौरान पाठ पढ़ने वाली महिलाओं व पाठ करवाने वाले परिवारों को मंदिर कमेटी द्वारा विशेष तौर पर सम्मानित किया गया। इसके अलावा आयोजन में सहयोग करने वालों को भी सम्मानित किया गया। उन्होंने बताया कि आयोजन में श्री सुंदर कांड महिला सत्संग मंडल एवं श्री बाला जी फेरी संघ का विशेष सहयोग रहा, जबकि किरण चोपड़ा, राजन आहूज, विपुल दत्ता, खरैत लाल छाबड़ा, सुरेंद्र कुमार बजाज, दिनेश कटारिया, राकेश धवन, सुभाष बांसल, सुरेन्द्र गोयल, नरेश अरोड़ा, रानी धवन, शशि धूडि़या, अंजली धवन, बिमला मक्कड़, विजय गिरधर, कृष्णा, ऊषा, वीना, मधू, कामना एवं सभी सदस्यों ने पूर्ण सहयोग किया।

Edited By: Jagran