संवाद सूत्र, फाजिल्का : सिविल सर्जन फाजिल्का डॉ. सुरिंदर कुमार व सीएचसी डब्बवाला कलां के एसएमओ डॉ. चंद्र मोहन कटारिया के दिशा निर्देश पर गांव लालोवाली में मलेरिया जागरुकता कैंप लगाया गया। सेनेटरी इंस्पेक्टर कंवलजीत ¨सह बराड़ ने लोगों को मलेरिया व डेंगू के लक्षण बताकर बचाव संबंधी जागरूक किया। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि नालियों, छप्पड़ों जहां पानी इकट्ठा होता है वहां काला तेल डाले। साथ ही अपने घरों के आसपास पानी इकट्ठा न होने देने व सफाई का विशेष ध्यान रखें। इस मौके सेहत कर्मचारी परमजीत ¨सह ने बताया कि मलेरिया बुखार अनफलीज मादा मच्छर के काटने साथ होता है, इसलिए रात को सौते समय पूरे शरीर को ढक कर सोना चाहिए। उन्होंने बताया कि मलेरिया बुखार के लक्षण, नमें ठंड व तेज बुखार होना, उलटी आना, सिर दर्द, बुखार उतरने के बाद थकावट, कमजोरी आदि हैं, इसलिए बुखार होने पर निकट के सेहत केंद्र में खून की जांच करवाकर नि:शुल्क इलाज करवाया जाए। इस मौके ज¨तद्र कुमार सामा, जमना बाई, आशा रानी, रवि, विक्की, रमेश, देसराज आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!