संवाद सूत्र, फाजिल्का : पंजाब यूटी कर्मचारी और पेंशनरों के सांझा मोर्चे की ओर से 29 जुलाई को पटियाला में की जा रही महारैली में शामिल होने के लिए बैठक डीसी कांप्लैक्स के बैठक हाल में हुई। बैठक में फैसला किया गया कि पटियाला रैली के लिए अलग-अलग विभागों से अपने-अपने वाहनों के द्वारा पीएसएमयू के बैनर के नीचे भाग लिया जाएगा।

इस मौके यूनियन सदस्यों ने कहा कि पंजाब सरकार के छठे वेतन आयोग में मुलाजिमों को बहुत बड़ा घाटा हुआ है। उन्होंने पंजाब सरकार से मांग की कि डीए की किस्तों व बकाया दिया जाए, पुरानी पेंशन बहाल की जाए, कच्चे मुलाजिमों को पक्का किया जाए, पुनर्गठन वापस किया जाए, ठेकेदारी सिस्टम बंद करके रेगुलर भर्ती की जाए। उन्होंने बताया कि फाजिल्का, अबोहर और जलालाबाद से मिनिस्टीरियल साथियों का काफिला सुबह साढ़े छह बजे पटियाला के लिए रवाना होगा। बैठक में यह फैसला किया गया कि प्रांतीय फैसले के अनुसार समूह मिनिस्ट्रियल कर्मचारी 29 जुलाई को सामुहिक छुट्टी पर रहेंगे। इस मौके यूनियन के सरंक्षक हरभजन सिंह खुंगर, जिला प्रधान फकीर चंद, महासचिव प्रवीन कुमार ने पंजाब सरकार की कर्मचारियों के प्रति नकारात्मक नीति की निदा की और सरकार से अपील की कि कर्मचारियों की मांगों को तुरंत माना जाए। बैठक में यूनियन के नेता सुखदेव चंद सचिव, सुखचैन सचिव, जसविदर सचिव, विजय कुमार शिक्षा विभाग, अजय कुमार कोआप्रेटिव सोसायटी, राजेश कटारिया, प्रदीप कुमार, पंकज शर्मा व अन्य उपस्थित हुए।

हल्ला बोल रैली की तैयारियों पर किया विमर्श संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : पंजाब यूटी मुलाजिम व पेंशनर संयुक्त फ्रंट की ओर से 29 जुलाई को पटियाला में की जा रही हल्ला बोल महारैली की तैयारियों को लेकर बैठक जिला परिषद् कांप्लेक्स फिरोजपुर में हरभगवान कंबोज जिला प्रधान, जिला परिषद् पंचायत समीति पेंशनर एसोसिएशन की प्रधानगी में हुई।

कृष्ण चंद जागोवालिया जिला प्रधान पससफ ने बताया कि कांग्रेस पार्टी ने सता में आने के लिए विधानसभा चुनाव 2017 के चुनाव में मुलाजिमों व पेंशनरों से किए वादें पूरे नहीं किए है, जबकि उनसे सुविधाएं छीनकर उन्हें संघर्ष करने के लिए मजबूर कर दिया है। उन्होंने सभी कर्मचारियों व पेंशनरों को हल्ला बोल रैली में शामिल होने की अपील की।

Edited By: Jagran