संवाद सहयोगी, फाजिल्का : होली हार्ट डे बोर्डिग सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रिसिपल रीतू भूसरी के दिशानिर्देशों पर विद्यार्थियों के सर्वपक्षीय विकास के लिए मनाए जा रहे एक्टीविटी वीक के तहत यूकेजी कक्षा के विद्यार्थियों को शहीदों की समाधि आसफवाला ले जाया गया। विद्यार्थियों ने आसफवाला समाधि पर पहुंच कर समाधि स्थल पर माथा टेकते हुए शहीदों जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की और नन्हे मुन्ने विद्यार्थियों द्वारा भारत माता की जय व इंकलाब जिदाबाद के नारे लगाए गए। यही नहीं, वीर शहीदों के सम्मान में स्थापित लाइब्रेरी तथा भारत पाक युद्ध के इतिहास के बारे में जानकारी दी गई।

इस अवसर पर बच्चों को समाधि स्थल तथा शहीदों की शहादत तथा उनकी वीरगाथा के बारे में बताया गया। इस दौरान अध्यापकों ने बच्चों को बताया कि आज हम शहीदों की शहादत की बदौलत ही खुली हवा में सांस ले रहे हैं और स्वतंत्र भारत में जिदगी व्यतीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम कभी भी शहीदों के ऋण से मुक्त नहीं हो सकते। प्रिसिपल रीतू भूसरी ने कहा कि देशभक्ति ही सर्वोपरि है और हमें शहीदों का कर्ज कभी भी भूलना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा कि हीरो हिरोईन तो महज रील हीरो हैं, जबकि हमारे शहीद असली जिदगी के हीरो हैं और युवा पीढ़ी को शहीदों को अपना आदर्श बनाते हुए देश हित में सोचना चाहिए। इस मौके पर समाधि स्थल में स्थापित पार्क में बच्चों में वन मिनट प्रतियोगिताएं भी करवाई गई। कार्यक्रम में यूकेजी कक्षा के स्टाफ का पूर्ण सहयोग रहा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!