जासं, अबोहर : आर्य नगरी में दो गुटों में झगड़ा हो गया। पुलिस में लिखित राजीनामा करवाए जाने के बाद भी एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर हमला कर दिया। इस घटना में व्यक्ति घायल हो गया, साथ ही गली में खड़े छोटे हाथी वाहन को भी क्षतिग्रस्त हो गया।

पथराव के कारण पूरी रात मोहल्ले में भय बना रहा। घायल को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मोहल्लावासियों ने पुलिस से हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। नानकचंद पुत्र बाबूराम निवासी आर्य नगरी गली नंबर सात ने बताया कि उसके बेटे का मोहल्ले के कुछ युवकों के साथ झगड़ा हो गया था। थाना नंबर दो के अतिरिक्त प्रभारी रणजीत सिंह दोनों पक्षों का आपस में लिखित राजीनामा करवाया था। नानकचंद ने बताया कि बुधवार को वह, उनका दामाद मदन व अन्य पारिवारिक सदस्य घर में बैठे थे। इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोग अपने साथ दर्जन भर युवकों को साथ आए। उसके हाथों में बेसबॉल व अन्य तेजधार हथियार थे। उन्होंने उनके घर के बाहर पड़ी ईटों से उनके घर में पथराव कर दिया। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। एएसआइ विनोद कुमार देर रात्रि मौके पर पहुंचे और घटना का जायजा लिया। इधर मोहल्लावासियों पुष्पा, सुलोचना, आलिनी, मामनी, विद्या, लक्ष्मी, सरस्वति, अजय, बंटी, कालूराम, कृष्णा आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!