संवाद सहयोगी, अबोहर : डीएवी शिक्षा महाविद्यालय में आर्ट ऑफ लिविग की ओर से कार्यशाला आयोजित किया गया। मुख्य वक्ता स्टेट अवार्डीं अध्यापक विवेक बंसल ने कहा कि दिमाग और मन जब संतुलित अवस्था में रहें तब हम शांत और खुश हो सकते हैं, जिससे तनाव से भी मुक्ति मिलती है। उन्होंने खुशहाल जीवन जीने की की प्रक्रिया को बताया। इनमें से सुदर्शन क्रिया के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। उन्होंने विभिन्न गतिविधियों, क्रियाओं, तथा ध्यान के माध्यम से इस बारे बताया। रेणु कामरा ने अपने अनुभवों के खजाने से बताया कि आर्ट ऑफ लिविग हमारे आत्मविश्वास को बढ़ाता है और जीवन में समन्वय रखना सिखाता है। प्रिसिपल डॉ. उर्मिल सेठी जालंधर से आए मुख्य वक्ता स्टेट टीचर अवार्ड से सम्मानित विवेक बंसल, रेनू कामरा व उनकी टीम को पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया। मंच संचालन विनीत खुंगर ने निभाया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!