संवाद सहयोगी, फतेहगढ़ साहिब : सांसद डॉ. अमर सिंह ने कहा कि दशमेश पिता श्री गुरु गोबिद सिंह के छोटे साहिबजादों बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह द्वारा छोटी उम्र में दी शहादत की मिसाल दुनिया भर के इतिहास में नहीं मिलती। इन महान शहीदों के दिखाए मार्ग पर चलकर ही एक अच्छे समाज का निर्माण किया जा सकता है। वह डीसी अमृत कौर गिल और मनदीप कौर नागरा के साथ जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स में लगाई प्रदर्शनी का जायजा लेने उपरांत पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फतेहगढ़ साहिब में ही दुनिया की सबसे महंगी जमीन है, जहां छोटे साहिबजादों और माता गुजरी का अंतिम संस्कार किया गया था। इससे पहले वह गुरुद्वारा श्री फतेहगढ़ साहिब में नतमस्तक हुए और पंगत में बैठकर लंगर ग्रहण किया। इस अवसर पर सांसद की पत्नी कुलदीप कौर, एडीसी जसप्रीत सिंह, एडीसी (डी) अमरीक सिंह सिद्धू, एसडीएम फतेहगढ़ साहिब डॉ. संजीव कुमार, सहायक कमिश्नर जनरल जसप्रीत सिंह, परमवीर सिंह टिवाणा आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!