संवाद सहयोगी, फतेहगढ़ साहिब : पंजाब सुबार्डिनेट सर्विसज फेडरेशन और पेंशनर्ज जत्थेबंदी द्वारा संयुक्त तौर पर जिला हेड क्वार्टर पर विधानसभा के चल रहे सेशन दौरान सरकार खिलाफ नारेबाजी कर मुख्यमंत्री का पुतला फूंका गया। इस मौके अवतार सिंह चीमा, सुखविदर सिंह चाहल, हरविदर सिंह रौणी, राजेश कुमार, जसपाल सिंह ने कहा कि सरकार तीन वर्षों से मुलाजिमों और पेंशनर्ज की मांगों पर टालमटोल की नीति अपना रही है। मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री ने उप चुनाव के दौरान मुलाजिम नेताओं से बात कर मांगों को निपटाने का भरोसा दिया था। कच्चे मुलाजिमों को 30 नवंबर तक रेगूलर करना, पंजाब के छठे पे कमिशन संबंधी भरोसा दिया था। मगर कोई भी पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि मौजूदा कैप्टन सरकार के पास मुलाजिमों के लिए कोई नीति नहीं है और न ही मुलाजिमों की मांगों को पूरा करने के लिए नीति बनाई है। इस मौके उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने उनकी मांगों को जल्द पूरा न किया तो वह आने वाले समय में संघर्ष को ओर भी तेज करेंगे। इस अवसर पर जसविदर सिंह, जगतार सिंह, जागर सिंह, हरजीत सिंह, चंद सिंह, मेजर सिंह, हरमेश सिंह, नाजर सिंह, हरप्रीत, गुरजंट सिंह, मुकंद लाल, भूषण सिंह, प्रेम सिंह, सुखविदर सिंह आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!