जागरण संवाददाता, फतेहगढ़ साहिब : गुरुद्वारा साहिब में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान शिअद के जिला प्रधान स्वर्ण ¨सह और हलका इंचार्ज दीदार ¨सह भट्टी ने विधायक कुलजीत ¨सह नागरा की पत्नी मंदीप कौर नागरा सहित पुलिस पर संगीन आरोप लगाए। दोनों नेताओं ने पत्रकारों को बताया कि विधायक की पत्नी मंदीप कौर नागरा ने महिला उम्मीदवार को आफिस में बंधक बनाकर उसका नामांकन वापस करवाया। वहीं पुलिस ने देर रात को उनकी ही पार्टी के एक उम्मीदवार को उठा लिया है जिसका अभी तक कुछ अता-पता नहीं है। प्रेस को मामले की जानकारी देती महिला उम्मीदवार जसपाल कौर ने बताया कि सोमवार को विधायक नागरा की पत्नी अपने वर्करों के साथ उनके पास आई और जबरदस्ती अपने आफिस में ले गई। वहां काफी देर तक रोके रखा। बाद में नामांकन वापस करने वाले दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करवा लिए। इनके चंगुल से छूटने के लिए वह बाथरूम का बहाना बनाकर वहां से बड़ी मुश्किल से निकल गई। इसी तरह एक अन्य उम्मीदवार जसवीर कौर ने भी विधायक नागरा की पत्नी पर नामांकन पत्र वापस लेने के लिए धमकियां देने के गंभीर आरोप लगाए हैं।

शेखोपुरा जोन के प्रत्याशी को पुलिस ने कर दिया गायब

दीदार ¨सह भट्टी ने बताया कि इसी तरह ही उनकी पार्टी के शेखोपुरा जोन व गांव सैफलपुर वासी उम्मीदवार हरकेवल ¨सह को मुल्लेपुर थाने की पुलिस उठाकर ले गई है। सोमवार रात को पुलिस पहले उसे (हरकेवल) घर से उठाने के बाद थोड़ी देर बाद छोड़ गई। इसके बाद फिर अपने साथ ही ले गई। अब तक उम्मीदवार के बारे में न तो उसके परिवार को कोई जानकारी है और न ही पार्टी के पास कोई सूचना। इस मामले में एसएसपी को शिकायत दी है।

लिस्ट जारी होने के बाद गुरचरन का नाम हटाया

भट्टी के अनुसार एक अन्य मामले में सोमवार को जारी हुई लिस्ट में पंचायत समिति के हरबंसपुरा जोन से उम्मीदवार गुरचरन ¨सह का नाम जारी कर दिया था। लिस्ट जारी होने के बाद उसका नाम देर रात को रद्द कर दिया गया। ऐसे में यह साफ प्रतीत हो रहा है कि कांग्रेस पार्टी धक्केबाजी से चुनाव जीतना चाह रही है। बात यहीं खत्म नहीं होती है बल्कि कई अन्य उम्मीदवारों के बगैर कारणों से नामांकन रद्द कर दिए हैं। सोमवार को जिला प्रशासन ने 54 लोगों के नामांकन पत्र रद्द किए हैं जिनमें से अधिकांश अकाली दल के उम्मीदवारों के ही हैं।

हरकेवल को पूछताछ के लिए बुलाया था : एसएसपी

एसएसपी अलका मीना ने बताया कि पुलिस पर लगाया जा रहा आरोप झूठा है। उन्होंने मुल्लेपुर थाना मुखी से बात की है हरकेवल पर एक केस चल रहा है जिसके संबंध में उसे पूछताछ के लिए थाने में बुलाया था। थाने से उसका ही एक साथी उसे अपनी जिम्मेदारी पर यह कहकर ले गया है कि वो उसे पुलिस के सामने पेश करेगा। अब तक उक्त व्यक्ति ने हरकेवल को पुलिस के सामने पेश नहीं किया है।

Posted By: Jagran