संवाद सहयोगी, मंडी गोबिदगढ़ :

गोबिदगढ़ पब्लिक कालेज में एनएसएस और एनसीसी इकाई ने स्वतंत्रता संग्राम में शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव की भूमिका के लिए विशेष संदर्भ के साथ आजादी के 75 साल का जश्न मनाने पर एक राष्ट्रीय वेबिनार करवाया गया। डा. निर्मल सिंह जौड़ा निर्देशक युवा कल्याण विभाग पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ मुख्य अतिथि थे। डा. रेखा सूद हांडा प्रिंसिपल, गोपी चंद आर्य महिला कालेज अबोहर संसाधन व्यक्ति थे। प्रिसिपल डा. रेखा सूद हांडा ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव की भूमिका और योगदान पर प्रकाश डाला। उन्होंने पढ़ने और अपने स्कूल के दिनों से लेकर कैद होने तक पढ़ी गई जागरूकता के साथ-साथ अपने स्वभाव पर उस परिदृष्य के प्रभावों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने छात्रों को देश के विकास के लिए शहीद भगत सिंह के विचारों का अनुसरण करने के लिए भी प्रेरित किया। डा. निर्मल सिंह जौड़ा ने कहा कि भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव भारत के स्वतंत्रता आंदोलन के सबसे प्रमुख क्रांतिकारी थे। कहा कि शहीद भगत सिंह देश के हर युवा के लिए रोल माडल हैं। प्रधानाचार्य डा. नीना सेठ पजनी ने छात्रों के लिए अपना बहुमूल्य समय देने के लिए संसाधन व्यक्तियों को धन्यवाद दिया। डा. मनदीप सिंह और डा. तेजिदर सिंह वेबिनार के मध्यस्थ थे। इस वेबिनार में 85 शिक्षकों और छात्रों ने भाग लिया।