खमाणो, रविंद्र सिद्धू: आप के विधायक अकसर विवाद में घिरे रहते हैं। अब जिला फतेहगढ़ के अमलोह हलके के विधायक गैरी वडिंग पर पनग्रेन के इंस्पेक्टरों ने धान की खरीद शुरू करवाते समय दुर्व्यवहार करने का न केवल आरोप लगाया है बल्कि उसकी बदली करवाने की धमकी दी है। इस बात से गुस्साए इंस्पेक्टरों ने आज जिलेभर में खरीद का बायकाट करते हुए दो अक्टूबर से पंजाबभर में खरीद न करने भी एलान किया है। हालांकि उक्त आरोपों को विधायक गैरी वडिंग ने सिरे से नकारा है।

यह है मामला

पनग्रेन एजेंसी के इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह ने बताया कि शनिवार को वह बस्सी पठाना विधानसभा क्षेत्र के विधायक रूपिंदर सिंह हैप्पी के साथ बस्सी पठाना के खरीद केंद्र रायपुर माजरी में धान की खरीद शुरू करवाने गए थे। इस दौरान उन्होंने एक सौ क्विंटल धान की सरकारी खरीद भी की। इसी बीच अमलोह विधानसभा क्षेत्र के विधायक गुरिंदर सिंह गैरी वडिंग मौके पर पहुंच गए और उसके साथ अभद्र व्यवहार किया। इस बीच मैंने कहा हां, मैं अपनी आधिकारिक ड्यूटी कर रहा हूं तो विधायक ने कहा कि मुझे यहां अपना खुद का इंस्पेक्टर नियुक्त करना है। गुरमीत सिंह के मुताबिक मौके पर मौजूद बस्सी पठाना के विधायक रूपिंदर सिंह हैप्पी ने उनका पक्ष लेते हुए विधायक गैरी वडिंग के इस रवैये को गलत बताया।

यहां पर नए इंस्पेक्टर ने खरीद करवानी थी : वडिंग

उधर, विधायक गुरिंदर सिंह गैरी वडिंग ने कहा कि यहां की मंडी में नए इंस्पेक्टर के आदेश हो गए हैं और यह मंडी भी गोविंदगढ़ के अधीन आती है ऐसे में यहां पर जिसमें इंस्पेक्टर के आदेश हुए हैं उसने ही मंडी में खरीद करवानी थी जिसकी जानकारी संग्रहण के उच्च अधिकारियों ने इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह को दे दी थी लेकिन फिर भी गुरमीत सिंह ने अपने निजी स्वार्थ के कारण यहां की खरीद करवानी चाही है। उन्होंने इंस्पेक्टर के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोपों का पूरी तरह से नकारा है।

डीसी को देंगे विधायक के खिलाफ मांगपत्र

इंस्पेक्टर यूनियन फतेहगढ़ साहिब की अध्यक्ष संदीप कौर ने कहा कि रविवार को डीसी परनीत शेरगिल को संघ की ओर से मांगपत्र देकर मांग करेंगे कि विधायक गैरी वडिंग के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया जाए।

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट