जागरण संवादाता, फतेहगढ़ साहिब

सदाबहार गायक किशोर के 89वां जन्मदिवस किशोर कुमार फैंस एंड चेरिटेबल क्लब की तरफ से धूमधाम से मनाया गया। रंगारंग कार्यक्रम में किशोर कुमार के चाहने वालों ने उनके गाए गीतों को गाकर श्रद्धांजलि भेंट की। समागम का शुभारंभ मुख्य मेहमान पुष्कर राज ¨सह, गुरशरण ¨सह बिट्टू, शरणजीत ¨सह चड्ढा, डायरेक्टर दीपक मलिक ने किशोर कुमार के चित्र पर फूलमालाएं अर्पित कर किया।

मुख्य मेहमान पुष्कर राज ने कहा कि स्व. किशोर कुमार को हमसे बिछड़े एक जमाना बीत गया। परंतु उनकी आवाज आज भी हमारे दिलों में गीतों के माध्यम से बसी हुई है। क्लब के प्रधान बलजीत ¨सह और परमिन्दर ¨सह ने बताया कि इस समागम में विभिन्न शहरों से किशोर कुमार के चाहने वालों ने भाग ले कर गीत पेश कर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। समागम में बलजीत ¨सह ने ले जाएंगे दिल वाले दुलहनिया ले जाएंगे.., पर¨मदर ¨सह ने कभी बेकसी ने मारा.., राणा ¨सह से दिल दीवाना बिन साजन के माने न.., रणजोध ¨सह ने चला जाता हूं, किसी की धुन में.., जगदीश अरोड़ा ने इक अजनबी हसीना से मुलाकात हो गई.. गीतों को पेश किया।। गीत पेश करने वालों को संस्था की ओर से सम्मानित भी किया गया। इस मौके पर पार्षद गुरप्रीत ¨सह लाली, नरिंदर ¨सह शाही, त्रिलोक ¨सह बाजवा, शालिनी, केवल कृष्ण गाबा, हरमीत ¨सह, विपिन कुमार, राजेश कुमार, इंद्रजीत छाबड़ा, राजविन्दर भट्टी, सतनाम ¨सह भट्टी, अमृतपाल ¨सह राजू, मनप्रीत ¨सह शाही, अरुण प्रसन्न मौजूद थे।

Posted By: Jagran