संवाद सहयोगी, फतेहगढ़ साहिब

श्री गुरु नानक देव जी के चरण छू प्राप्त गुरुद्वारा थेह साहिब ईसरहेल में चल रही कार सेवा का जायजा लेने के लिए बाबा गुलजार सिंह पहुंचे। उन्होंने संगत द्वारा गुरुद्वारा साहिब के लंगर हाल व परिसर में की जा रही कार सेवा का जायजा लेते हुए कहा कि गुरु घरों को माथा टेकने तक सीमित नहीं रखना चाहिए बल्कि सिख इतिहास व गुरु मर्यादा को समझना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सिख इतिहास वह समुद्र है जिसकी जितनी खोज की जाए, उसमें से उतना ही ज्ञान प्राप्त होता है। उन्होंने संगत को गुरु नानक देव जी के किरत करो, नाम जपो और बांट कर छको के सिद्धांत पर पहरा देते हुए आपस में मिलजुलकर रहने की प्रेरणा दी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!